DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   धर्म  ›  Chanakya Niti: जो व्यक्ति इन 4 बातों का रखते हैं हमेशा ध्यान, धनवान बनने के साथ तरक्की के खुल जाते हैं रास्ते

पंचांग-पुराणChanakya Niti: जो व्यक्ति इन 4 बातों का रखते हैं हमेशा ध्यान, धनवान बनने के साथ तरक्की के खुल जाते हैं रास्ते

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Saumya Tiwari
Wed, 04 Nov 2020 11:29 AM
Chanakya Niti: जो व्यक्ति इन 4 बातों का रखते हैं हमेशा ध्यान, धनवान बनने के साथ तरक्की के खुल जाते हैं रास्ते

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में खुशहाल जीवन बिताने के लिए कुछ नीतियां बताई हैं। कहते हैं कि इन नीतियों को अपनाना कठिन होता है, हालांकि जिसने भी अपना लिया उसके धनवान बनने के साथ तरक्की के रास्ते भी आसान हो जाते हैं। नीति शास्त्र में आचार्य चाणक्य ने कुछ ऐसी भी बातों का जिक्र किया है, जिन्हें अपनाकर मुश्किल समय से निकला जा सकता है।

1. गलत संगत से दूरी-

आचार्य चाणक्य के अनुसार, व्यक्ति को हमेशा गलत संगत से दूर रहना चाहिए। नीति शास्त्र के अनुसार, व्यक्ति जिन लोगों की संगत में रहता है, उसका चरित्र भी उसी तरह का होता है। गलत संगत में रहने वाले व्यक्ति के दिमाग में नेगेटिव बातें आती हैं और वह हमेशा बुरे कर्म करता है। अच्छी संगत वाला व्यक्ति सदैव बलवान होता है।

व्यक्ति के कठिन और बुरे वक्त में हमेशा साथ देती हैं ये 5 चीजें, पढ़ें क्या कहती है चाणक्य नीति

2. हमेशा प्रयास करना-

चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को कभी भी हार नहीं माननी चाहिए। जीवन में हमेशा आगे बढ़ते रहने का प्रयास करना चाहिए। चाणक्य का मानना है कि व्यक्ति को कभी भी किस्मत के भरोसे नहीं बैठना चाहिए। नीति शास्त्र के अनुसार, बुरे समय में व्यक्ति को हमेशा धैर्य और साहस से काम लेना चाहिए और आगे बढ़ते रहना चाहिए।

3. मधुर वाणी-

चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को हमेशा मधुर वाणी वाला होना चाहिए। चाणक्य का मानना है कि मधुरभाषी लोग दुश्मनों पर भी विजय प्राप्त कर सकते हैं। मधुर वाणी से विरोधियों को पक्ष में किया जा सकता है। नीति शास्त्र के अनुसार, अच्छी वाणी बोलने वालों को हर जगह मान-सम्मान और प्रशंसा मिलती है।

स्त्रियों की ये आदतें ही बताती हैं उनका स्वभाव और व्यक्तित्व, आप भी जान लीजिए

4. स्त्रियों को खुश रखना और इज्जत देना-

चाणक्य कहते हैं कि जिस घर में महिलाओं को खुश रखा जाता है और इज्जत दी जाती है, वहां मां लक्ष्मी का वास होता है। चाणक्य का मानना है कि व्यक्ति को बहन, मां, पत्नी, बेटी और घर की अन्य महिलाओं को खुश रखने का प्रयास करना चाहिए। नीति शास्त्र के अनुसार, ऐसे में घर में धन-संपदा में बरकत होती है।

संबंधित खबरें