DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   धर्म  ›  Budh Rashi Parivartan 2021: चंद्रमा की राशि में बुध का गोचर, मेष और मिथुन समेत इन राशि वालों को होगा लाभ
पंचांग-पुराण

Budh Rashi Parivartan 2021: चंद्रमा की राशि में बुध का गोचर, मेष और मिथुन समेत इन राशि वालों को होगा लाभ

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Saumya Tiwari
Thu, 22 Jul 2021 12:28 PM
Budh Rashi Parivartan 2021: चंद्रमा की राशि में बुध का गोचर, मेष और मिथुन समेत इन राशि वालों को होगा लाभ

ज्योतिष शास्त्र में किसी भी ग्रह के राशि परिवर्तन का विशेष महत्व होता है। बुध ग्रह चंद्रमा की राशि कर्क में 25 जुलाई (रविवार) को गोचर करेंगे। इस राशि में पहले से सूर्यदेव विराजमान हैं। बुध कर्क राशि में 9 अगस्त तक रहेंगे। इसके बाद वह सूर्य की राशि सिंह में प्रवेश कर जाएंगे। कर्क राशि में बुध और सूर्य की युति की विशेष संयोग बनेंगे। ग्रहों के राजकुमार बुध को ज्ञान, बुद्धि, धन और व्यापार का कारक माना जाता है। बुध के राशि परिवर्तन का कुछ राशियों पर शुभ प्रभाव पडडेगा। जानिए इन राशियों के बारे में-

1. मेष- बुध गोचर का मेष राशि वालों पर शुभ प्रभाव पड़ेगा। इस दौरान आपको रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे। व्यापार में मुनाफा हो सकता है। घर-परिवार से जुड़ी ज्यादातर समस्याएं सुलझेंगी। गोचर काल छात्रों के लिए भी शुभ साबित होने वाला है। इस दौरान रुका हुआ धन मिल सकता है।

2. वृषभ- बुध राशि परिवर्तन वृषभ राशि वालों के लिए शुभ रहने वाला है। इस दौरान आपकी बड़े लोगों से मुलाकात हो सकती है। जिनकी मदद से आपके कई कार्य बनेंगे। वाणी में मधुरता आएगी। परिवार के साथ यात्रा पर जाने के योग बनेंगे। कारोबारियों के लिए यह समय शुभ है।

3. मिथुन- मिथुन राशि वालों के लिए बुध गोचर शुभ परिणाम लेकर आएगा। इस दौरान आपकी आर्थिक समस्याएं सुलझेंगी। कारोबारियों को लाभ होगा। विवाहित लोगों को ससुराल से धन प्राप्त हो सकता है। निवेश के लिए यह समय शुभ है। वाणी और लेखन के जरिए भी धन प्राप्त हो सकता है।

4.धनु- धनु राशि वालों के लिए बुध गोचर काल शुभ रहेगा। गोचर काल में आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। विदेश यात्रा के अवसर मिलेंगे। इस दौरान आपके व्यक्तित्व में सुधार होगा। पिता के साथ संबंधों में सुधार आएगा। धार्मिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। आय में वृद्धि के योग बनेंगे।

5. मीन- मीन राशि वालों के लिए बुध राशि परिवर्तन का समय सुखमयी रहेगा। गोचर काल के दौरान भाग्य का साथ मिलने से धन लाभ के योग बनेंगे। पैतृक संपत्ति से भी लाभ का योग बनेगा। परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी।

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।  

 

संबंधित खबरें