DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Chandra Grahan 2019 : चंद्रग्रहण के कारण बंद हुए बद्रीनाथ के कपाट, बुधवार सुबह शुरू होगी पूजा

badrinath

मंगलवार को चंद्र ग्रहण से पहले सूतक काल के कारण बद्रीनाथ धाम के साथ ही परिसर में स्थित सभी मंदिरों के कपाट  सांय 4 बजकर 25 मिनट पर बंद हुए। चंद्रग्रहण रात एक बजकर 31 मिनट से लेकर बुधवार को तड़के चार बजकर 31 मिनट तक रहेगा।

ग्रहण काल से नौ घंटे पहले सूतक काल रहता है। मान्यता के अनुसार बद्रीनाथ धाम के कपाट धार्मिक परंपराओं के चलते सांय को यथा समय पर बंद कर दिये गये। बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने से पहले भगवान के दर्शनों को तीर्थयात्रियों का तांता लगा रहा। 

बद्रीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवनचंद्र उनियाल ने बताया कि मंगलवार को अपराह्न तीन बजकर 45 मिनट पर भगवान बद्रीनाथ की भोग पूजा और शयन आरती संपन्न हुई। इसके बाद शाम चार बजकर 25 मिनट पर विधि-विधान से बद्रीनाथ के कपाट बंद कर दिए गए।  

Read Also : Chandra Grahan 2019: चंद्र ग्रहण से जुड़ी वो खास बातें जो अधिकतर लोगों को नहीं पता

बुधवार को तड़के चार बजकर 40 मिनट पर बद्रीनाथ धाम की घंटी बजाई जाएगी। इसके बाद बद्रीनाथ परिक्रमा स्थल से लेकर सभा मंडप की साफ-सफाई की जाएगी। सुबह ठीक छह बजे बद्रीनाथ की अभिषेक पूजा व अन्य पूजाएं पूर्व की भांति विधि-विधान से शुरु हो जाएंगी।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Badrinat kapat closed due to lunar eclipse chandra grahan 2019 16 july
Astro Buddy