DA Image
30 मई, 2020|12:43|IST

अगली स्टोरी

महिलाओं को हृदयरोग दे रही बिगड़ी हुई नींद

sleep

जिन महिलाओं की नींद पूरी नहीं होती वे ज्यादा कैलोरी और कम गुणवत्ता वाले खाद्य पदार्थों का सेवन ज्यादा करती हैं। एक हालिया शोध के अनुसार महिलाओं में खराब नींद की वजह से हृदयरोगों और मोटापे का खतरा बढ़ सकता है। पूर्व के शोधों में दर्शाया गया है कि जो लोग कम सोते हैं उनमें मोटापे, टाइप-2 मधुमेह और हृदयरोग पनपने का खतरा ज्यादा होता है।

जीवनभर खराब नींद से जूझती हैं महिलाएं : जर्नल ऑफ द अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में प्रकाशित शोध में महिलाओं के आहार और उनकी नींद की गुणवत्ता के बीच संबंधों की जांच की गई है। कोलंबिया यूनिवर्सिटी वागेलोस के शोधकर्ता ब्रूक अग्रवाल ने कहा, महिलाएं जीवनभर खराब नींद से जूझती हैं क्योंकि उन्हें ज्यादातर बच्चों की और परिवार की देखभाल करने की जिम्मेदारी उठानी पड़ती है। इसके अलावा रजोनिवृत्ति के दौरान बनने वाले हार्मोन के कारण भी नींद की गुणवत्ता खराब होती है।

ऐसे किया गया अध्ययन : इस शोध में 20 से 76 वर्ष के उम्र की 495 महिलाओं पर अध्ययन किया गया। इस शोध में नींद की गुणवत्ता, सोने के दौरान लगने वाले समय और नींद की कमी का विश्लेषण किया गया। इन महिलाओं ने पूरे वर्ष खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों का ब्योरा भी दिया। इस शोध में पाया गया कि जिन लोगों की नींद की गुणवत्ता खराब थी उन्होंने ज्यादा मात्रा में चीनीयुक्त खाद्य पदार्थों का सेवन किया जिससे मोटापे और मधुमेह में बढ़ोतरी हुई।

शोधकर्ताओं ने कहा, जिन महिलाओं को सोने में ज्यादा वक्त लगा उन्होंने ज्यादा कैलोरी वाले आहार का सेवन किया और ज्यादा खाना खाया। जिन महिलाओं को गंभीर अनिद्रा की शिकायत थी उन्होंने अन्य महिलाओं की तुलना में वजन से ज्यादा खाना खाया और कम असंतृप्त वसा का सेवन किया। शोधकर्ता ने कहा, हमारे शोध से पता चलता है कि खराब नींद वाली महिलाएं भोजन के बीच में ज्यादा खाना खा रही हैं और अस्वास्थ्यकारी खाद्य पदार्थों का चयन कर रही हैं।

 

’ नींद की गुणवत्ता खराब होने से मोटापा व मधुमेह भी हो सकता है ’ खराब नींद की वजह से पेट भरने के संकेत दब जाते हैं

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bad sleep giving heart disease to women