DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ धर्मAshada Amavasya 2021 : आषाढ़ अमावस्या पर कर लें ये आसान उपाय, पितृ और कालसर्प दोष से मिलेगी मुक्ति

Ashada Amavasya 2021 : आषाढ़ अमावस्या पर कर लें ये आसान उपाय, पितृ और कालसर्प दोष से मिलेगी मुक्ति

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीYogesh Joshi
Thu, 08 Jul 2021 07:05 PM
Ashada Amavasya 2021 : आषाढ़ अमावस्या पर कर लें ये आसान उपाय, पितृ और कालसर्प दोष से मिलेगी मुक्ति

Ashada Amavasya 2021 : हिंदू पंचांग के अनुसार हर माह में अमावस्या पड़ती है। अमावस्या का हिंदू धर्म में बहुत अधिक महत्व होता है। इस समय आषाढ़ का महीना चल रहा है और आषाढ़ माह की अमावस्या 9 जुलाई, 2021 को है। अमावस्या के दिन पवित्र नदियों में स्नान का बहुत अधिक महत्व होता है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस की वजह से घर में रहकर ही स्नान करने के पानी में गंगा जल डालकर स्नान करें। स्नान करते समय मां गंगा का ध्यान जरूर करें। आषाढ़ अमावस्या पर कुछ उपाय करने से पितृ और कालसर्प दोष से मुक्ति मिल जाती है। आइए जानते हैं आषाढ़ अमावस्या के दिन पितृ और कालसर्प दोष से मुक्ति के उपाय...

कालसर्प दोष

  • ज्योतिषशास्त्र के अनुसार कुंडली में जब राहु और केतु के मध्य सभी ग्रह आ जाते हैं तो कालसर्प दोष का निर्माण हो जाता है। कालसर्प दोष की वजह से व्यक्ति को जीवन में कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 
  • उपाय - कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए अमावस्या के पावन दिन विधि- विधान से भगवान शिव की पूजा- अर्चना करनी चाहिए। इस दिन दूध, गंगा जल, इत्यादि से भोलेनाथ का अभिषेक करें। भोलेनाथ को भोग भी लगाएं और उनकी आरती करें। भगवान शिव की पूजा- अर्चना करने से कालसर्प दोष से मुक्ति मिल सकती है। 

मकर, कुंभ, धनु, मिथुन और तुला राशि वाले शनिदशा से मुक्ति के लिए सावन के महीने में जरूर करें ये काम

पितृ दोष

  • ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार कुंडली में दूसरे, चौथे, पांचवें, सातवें, नौवें और दसवें भाव में सूर्य राहु या सूर्य शनि की युति बनने पर पितृ दोष लग जाता है। सूर्य के तुला राशि में रहने पर या राहु या शनि के साथ युति होने पर पितृ दोष का प्रभाव बढ़ जाता है। इसके साथ ही लग्नेश का छठे, आठवें, बारहवें भाव में होने और लग्न में राहु के होने पर भी पितृ दोष लगता है। पितृ दोष की वजह से व्यक्ति का जीवन परेशानियों से भर जाता है। 
  • पितृ दोष उपाय-  इस दोष से मुक्ति के लिए अमावस्या के दिन पितर संबंधित कार्य करने चाहिए। पितरों का स्मरण कर पिंड दान करना चाहिए और अपनी गलतियों के लिए माफी  भी मांगनी चाहिए।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।) 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें