अंगारकी चतुर्थी 2019 आज, जानें इसका महत्व और पूजा विधि - Angarki Chaturthi 2019 aaj jane iska mahtva aur puja vidhi DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंगारकी चतुर्थी 2019 आज, जानें इसका महत्व और पूजा विधि

lord ganesha  agarki chaturfhi

भगवान गणेश की पूजा के लिए महत्वपू्र्ण चतुर्थी तिथियों में एक अंगारकी चतुर्थी भी है। इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से मनचाहा वरदान प्राप्त होता है और हर मनोकामना पू्र्ण होती है। इस बार अंगारकी चतुर्थी 17 सितंबर दिन मंगलवार यानी आज है।


अंगारकी चतु्र्थी महत्व :
अंगारकी नाम का एक संत भगवान गणेश का परम भक्त था। वह ऋषि भारद्वाज और मां पृथ्वी का पुत्र था। अंगारकी ने भगवान गणेश की घोर तपस्या की जिससे प्रसन्न होकर भगवान गणेश उनके सामने प्रगट हो गए। और मनचाहा वरदान मांगने के लिए कहा। इस पर संत अंगारकी ने कहा, भगवान मैं हमेशा आपकी शरण में रहना चाहता हूं। इस पर भगवान गणेश ने एवमस्तु कहा। उन्होंने कहा कि जब भी मंगलवार को चतु्र्थी पड़ेगी उसे अंगारकी नाम से जाना जाएगा। अंगारकी को भगवान मंगल के नाम से भी जानते हैं।


पूजा विधि : 
सुबह स्नान करन के बाद साफ वस्त्र या नए वस्त्र धारण करें और भगवान गणेश की विधि विधान से पूजा करें। भगवान गणेश की प्रतिमा ईशान कोण पर बनी चौथी में रखें और फिर उनकी पूजा करें। पूजा सामग्री के लिए जल, अक्षत, दूर्वा घास, लड्डू, पान, धूप आदि इस्तेमाल कर सकते हैं।


चतुर्थी तिथि :
प्रारंभ - 04:33 बजे, 17 सितंबर 2019
समाप्त - 06:12 बजे, 18 सितंबर 2019 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Angarki Chaturthi 2019 aaj jane iska mahtva aur puja vidhi