DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Anant chaturdashi: आज है अनंत चतुर्दशी, गणेश विसर्जन भी आज, पढ़ें आज का पंचांग

भाद्रपद मास में शुक्लपक्ष की चतुर्दशी को अनंत चतुर्दशी कहा जाता है। इस दिन अनंत भगवान की पूजा करने का विधान है। इस दिन गणपति विसर्जन भी किया जाता है, इस कारण इस दिन का महत्व और बढ़ जाता है। माना जाता है कि प्रतिमा का विसर्जन करने से भगवान गणपति पुनः कैलाश पर्वत पर पहुंच जाते हैं। 

पंचक जारी है। अनंत चतुर्थी। गणेश विसर्जन। सूर्य दक्षिणायन। सूर्य दक्षिण गोल। शरद ऋतु। मध्याह्न 1 बज कर 30 मिनट से सायं 3 बजे तक राहुकालम।

12 सितंबर, गुरुवार, 21 भाद्रपद (सौर) शक 1941, 28 भाद्रपद मास प्रविष्टे 2076, 12 मुहर्रम सन् हिजरी 1441, भाद्रपद शुक्ल चतुर्दशी अहोरात्र (दिन-रात), धनिष्ठा नक्षत्र सायं 4 बज कर 58 मिनट तक तदनंतर शतभिषा नक्षत्र, सुकर्मा योग सायं 7 बज कर 33 मिनट तक उपरांत धृति योग, गर करण, चंद्रमा कुंभ राशि में (दिन-रात)।

पं. वेणीमाधव गोस्वामी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Anant chaturdashi: Today is Anant Chaturdashi Ganesh Visarjan is also today read aaj ka panchang
Astro Buddy