ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News AstrologyAkshaya tritiya date 2024 When is Akshaya Tritiya sabse shubh tithi jab barsegi maa Lakshmi kripa

Akshaya Tritya 2024 importance 2024: आज है अक्षय तृतीया, मिलेगा मां लक्ष्मी का डबल आशीर्वाद

Akshaya Tritya Date: When will Akshaya Tritiya इस शुक्रवार को बेहद खास तिथि है जब आप मां लक्ष्मी का डबल आशीर्वाद पा सकते हैं। एक तो शुक्रवार का दिन जो मां लक्ष्मी को समर्पित है, दूसरा ऐसा शुभ समय जिस

Akshaya Tritya 2024 importance 2024: आज है अक्षय तृतीया, मिलेगा मां लक्ष्मी का डबल आशीर्वाद
Anuradha Pandeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 10 May 2024 07:32 AM
ऐप पर पढ़ें

इस शुक्रवार को बेहद खास तिथि है जब आप मां लक्ष्मी का डबल आशीर्वाद पा सकते हैं। एक तो शुक्रवार का दिन जो मां लक्ष्मी को समर्पित है, दूसरा ऐसा शुभ समय जिस पर बिना सोचे समझे शुभ काम किए जा सकते है, और तो और इस दिन किया दान, कई गुना होकर मिलता है और इस दिन आप जो खरीदते हैं, वो अक्षय हो जाता है मतलब उसका नाश नहीं होता। इस तिथि का वर्णन स्कन्दपुराण एवं भविष्यपुराण में भी मिलता है। 'अक्षय' का अर्थ है जिसका कभी क्षय न हो अथवा जो सदा स्थायी रहे। अक्षय तृतीया तिथि अक्षय, अखंड और सर्वव्यापक है। 10 मई से ही चारों धामों में से एक धाम बद्रीनारायण के पट खुलेंगे। वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया रोहिणी नक्षत्र से युक्त है, जिससे दुर्लभ संयोग बन रहा है।

क्या है महत्व
इस साल अक्षय तृतीया 10 मई शुक्रवार को है। इसी दिन पूरे देश में भगवान परशुराम की जयंती मनाई जाती है। उन्होंने कहा कि अक्षय तृतीया को ईश्वर तिथि भी कहा जाता है। इसी तिथि को भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। कहा जाता है कि भगवान परशुराम क्षत्रियों की बर्बरता का मुकाबला करने के लिए पृथ्वी पर अवतरित हुए थे। इस दिन को भारत के कई हिस्सों में परशुराम जयंती के रूप में मनाया जाता है।  इस दिन गंगा नदी पृथ्वी पर अवतरित हुई थी। इस दिन मां लक्ष्मी और विष्णु भगवान की अराधना और स्नान दान बहुत ही फलदायी रहता है।

पूजा मुहूर्त: अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त 2024, 10 मई 2024 को सुबह 05:33 बजे से दोपहर 12:18 बजे तक है।

तृतीया तिथि अवधि: तृतीया तिथि 10 मई को सुबह 04:17 बजे शुरू होगी और 11 मई को सुबह 02:50 बजे तक रहेगी

सोना खरीदने का शुभ समय: सोना खरीदने का समय 9 मई को सुबह 04:17 बजे शुरू होगा और11 मई को तृतीया तिथि के अंत तक जारी रहेगा।