DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

achala saptami आज, सूर्य देव की आराधना से मिलेगा अक्षय फल, जानें इसका महत्व

achala saptami 2019

सूर्य पूजा का महत्वपूर्ण पर्व रथ सप्तमी यानी अचला सप्तमी आज 12 फरवरी को पूरे देश में मनाया जा रहा है। यह पर्व हिन्दी महीना माघ के शुक्ल पक्ष की सप्तमी को मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन जो भी साधक भगवान सूर्य की पूजा उपासना करता है उसे अक्षय फल प्राप्त होता है। 

पूरी श्रद्धा के साथ पूजा करने पर भगवान भास्कर अपने भक्तों को सुख-समृद्धि एवं आरोग्य का आशीर्वाद प्रदान करते हैं। अचला सप्तमी को आरोग्य सप्तमी भी कहते हैं। आज के दिन सूर्योदय से पूर्व स्नान कर भगवान सूर्य को जल देना चाहिए। जल में लाल रोली और लाल फूल मिलाकर जल दें।

 

सूर्य पूजा मंत्र-
सूर्य को जल देते वक्त यहां दिए गए मंत्र का जाप करना चाहिए। इस सूर्य मंत्र का विशेष लाभ पाने के लिए पूर्व दिशा में बैठकर इसका 108 बार जाप करना चाहिए।

एहि सूर्य सहस्त्रांशो तेजोराशे जगत्पते।
अनुकम्पय मां भक्त्या गृहणाध्र्य दिवाकर।।


पौराणिक मान्यता है कि इस मंत्र के साथ भगवान सूर्य की अराधना करने से सेहत समृद्धि का आशीर्वाद प्राप्त होता है। आप किए गए कार्यों का फल प्राप्त होगा और संपन्नता का वरदान मिलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:achala saptami today read the importance and puja widhi of achala saptami