DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिवपुराण में बताए गए हैं मृत्यु के ये 8 संकेत

शिवपुराण

संसार में जिसने जन्म लिया है उसे एक ना एक दिन मरना ही है। इसके बावजूद भी लोगों के मन में मौत का भय बना रहता है। ज्यादातर लोग इस डर के साथ जीते हैं कि वह अपनी मौत आने से पहले सारे फर्ज पूरे कर लें। ऐसे ही शिवपुराण में मौत से पहले कुछ संकेत बताए गए हैं। जिनसे लोगों को आभास हो जाता है कि इस दुनिया में उनका वक्त पूरा हो चुका है। 

आइए जानते हैं उन संकेतों के बारे में

1. शिवपुराण में कहा गया है कि अगर किसी के सिर के ऊपर गिद्ध, कौआ या कबूतर आकर बैठ जाएं या गिद्ध और कौवे घेर लें। तो यह मृत्यु का संकेत है।

2. इस ग्रंथ के अनुसार यदि किसी व्यक्ति का शरीर सफेद या पीला पड़ जाए और लाल निशान दिखाई दें तो यह भी मृत्यु का संकेत है।

3. शिवपुराण के अनुसार जब किसी मनुष्य का बायां हाथ लगातार एक सप्ताह तक फड़कता रहे, तो इसे भी मृत्यु के संकेत की संज्ञा दी गई है।

4. शिवपुराण के अनुसार जिस व्यक्ति को अग्नि का प्रकाश ठीक से दिखाई न दे और चारों ओर काला अंधकार दिखाई दे तो यह भी मृत्यु का संकेत है।

5. इस ग्रंथ के अनुसार जब किसी व्यक्ति को जल, तेल या आइने में अपनी परछाई न दिखाई दे, तो इसे भी मृत्यु का संकेत पता चलता है।

6. जिसे चंद्रमा व सूर्य के आस-पास काला या लाल घेरा दिखाई देने लगे, उसकी मृत्यु 15 दिन के अंदर हो सकती है।

7. जिस व्यक्ति को अचानक नीली मक्खियां घेर लें, हो सकता है उसकी आयु लगभग 1 महीना ही बची हो।

8. यदि किसी व्यक्ति का मुंह और गला बार-बार सूखने लगे तो उसकी मृत्यु 6 महीने के अंदर संभव है।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

घर के दरवाजे और खिड़की हमेशा अंदर की तरफ खुलने चाहिए, जानिए ऐसी ही कुछ बातें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:8 signs of death according to shiv puran