Hindi Newsधर्म न्यूज़sawan 2024 start and end date hindu calendar

Sawan 2024 : सावन माह की शुरुआत और अंत दोनों ही बेहद शुभ, भोलेनाथ की पूजा से मिलेगा मनवांछित फल

भगवान शिव को समर्पित सावन का महीना इस वर्ष 22 जुलाई से शुरू हो रहा है। सावन महीना इस साल विशेष संयोग के साथ शुरू और खत्म हो रहा है। सावन में सोमवारी का विशेष महत्व है। इस वर्ष पांच सोमवारी पड़ रहा है। सावन माह में पांच सोमवार पड़ना बहुत शुभ माना जाता है।

Yogesh Joshi नई दिल्ली, एजेंसी/लाइव हिन्दुस्तान टीमSat, 22 June 2024 10:37 AM
हमें फॉलो करें

भगवान शिव को समर्पित सावन का महीना इस वर्ष 22 जुलाई से शुरू हो रहा है। सावन महीना इस साल विशेष संयोग के साथ शुरू और खत्म हो रहा है। सावन में सोमवारी का विशेष महत्व है। इस वर्ष पांच सोमवारी पड़ रहा है। सावन माह में पांच सोमवार पड़ना बहुत शुभ माना जाता है। 21 जुलाई, रविवार को आषाढ़ पूर्णिमा के बाद सावन प्रतिपदा 22 जुलाई को सोमवार को पड़ रहा है। वहीं रक्षाबंधन त्योहार सावन पूर्णिमा 19 अगस्त को भी सोमवार दिन ही पड़ रहा है। ज्योतिषाचार्य पीके युग कहते हैं कि इस वर्ष प्रीति योग और सावन नक्षत्र में सावन महीना की शुरुआत हो रही है। सावन के पहले दिन 22 जुलाई को सुबह से शाम तक प्रीति योग रहेगा, वहीं सावन नक्षत्र सुबह से लेकर रात साढ़े दस बजे तक रहेगा। सावन के सोमवार को जल चढ़ाकर भोलेनाथ की पूजा और मंगला गौरी व्रत रख मां पार्वती की पूजा से भक्तों को मनोवांछित फल, पुण्य व सुख की प्राप्ति होती है।

कुंडली में चंद्रमा की स्थिति होती है मजबूत :

पं.प्रेमसागर पांडेय बताते हैं कि सावन में सोमवार का व्रत करने से कुंडली में चंद्रमा की स्थिति मजबूत होती है। सोमवार के अलावा सावन महीने में प्रत्येक दिन अत्यंत फलदायी होता है। सावन महीने की शिवरात्रि बहुत खास होती है। इस वर्ष सावन माह कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी 2 अगस्त शुक्रवार को शिवरात्रि मनायी जाएगी। 2 अगस्त को दोपहर 3:26 बजे से होगा और 3 अगस्त को दोपहर 3:50 बजे समाप्त होगा। शिवरात्रि की पूजा रात में की जाती है इसलिए सावन की शिवरात्रि 2 अगस्त को ही मनाई जाएगी।

सोमवारी व मंगला गौरी व्रत :

सावन में पहली सोमवारी 22 जुलाई और पहला मंगला गौरी व्रत 23 जुलाई को पड़ रहा है। वहीं दूसरी सोमवारी 29 जुलाई और मंगला गौरी व्रत 30 जुलाई को होगा। तीसरा सोमवारी व्रत 5 अगस्त और मंगला गौरी व्रत छह अगस्त को पड़ रहा है। चौथी सोमवारी 12 अगस्त और सावन महीने की चौथी व अंतिम मंगला गौरी व्रत श्रद्धालु 13 अगस्त को रखेंगे। वहीं सावन की पांचवीं व अंतिम सोमवारी 19 अगस्त को पड़ेगा।

ऐप पर पढ़ें