DA Image

अगली स्टोरी

वृष

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

वृष

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

वृष

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

वृष

week34-2019

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

वृष

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

वृष

week34-2019

वृष : (21 अप्रैल-20 मई)
मानसिक उलझनें परेशान कर सकती हैं, क्रोध एवं आवेश से बचने का प्रयास करें, दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ सकती है, संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि होगी, नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। किसी मित्र के सहयोग से करोबार में वृद्धि हो सकती है।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

17 सितम्बर, 2019