अगली स्टोरी

वृश्चिक

1 सित॰ 2018

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

वृश्चिक

1 सित॰ 2018

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

वृश्चिक

1 सित॰ 2018

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

वृश्चिक

1535740200000

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

वृश्चिक

सितंबर

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

वृश्चिक

1535740200000

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। छह सितंबर से दिनचर्या व्यवस्थित रहेगी। माता-पिता का सानिध्य रहेगा। मान सम्मान भरपूर मिलेगा, परंतु जीवनसाथी को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। वस्त्रों आदि पर खर्चों में वृद्धि होगी। 18 सितंबर के बाद धैर्यशीलता में कमी आएगी। माता-पिता से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)



25 सितम्बर, 2018