DA Image

अगली स्टोरी

मीन

1 सित॰ 2018

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मीन

1 सित॰ 2018

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मीन

1 सित॰ 2018

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मीन

1535740200000

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मीन

सितंबर

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मीन

1535740200000

मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। तीन सितंबर से 18 सितंबर तक पारिवारिक समस्या परेशान कर सकती है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। आत्मसंयत रहें। 18 सितंबर के बाद क्रोध की अधिकता रहेगी। 19 सितंबर के बाद से पारिवारिक जीवन सुचारू रहेगा। इस माह में यात्रा अधिक रहेगी। अनियोजित खर्चे बढ़ेंगे। माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

18 नबम्बर, 2018