DA Image

अगली स्टोरी

तुला

1 अग॰ 2019

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1 अग॰ 2019

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1 अग॰ 2019

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1564597800000

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

अगस्त

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1564597800000

आत्मसंयत रहें। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। नौ अगस्त से वाणी में कठोरता का प्रभाव बढ़ सकता है। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। मित्रों से वाद विवाद की स्थिति बन सकती है। 17 अगस्त के उपरांत नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। वस्त्र उपहार में प्राप्त हो सकते हैं। पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

20 सितम्बर, 2019