DA Image

अगली स्टोरी

कुंभ

1 मई 2019

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

कुंभ

1 मई 2019

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

कुंभ

1 मई 2019

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

कुंभ

1556649000000

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

कुंभ

मई

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

कुंभ

1556649000000

आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी रहेगा। तीन मई से धैर्यशीलता में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चार मई से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। 11 मई के बाद से नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है। पिता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

19 जून, 2019