DA Image
8 मार्च, 2021|2:30|IST

अगली स्टोरी

मकर

7 मार्च 2021

क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मनःस्थिति रहेगी। आय में वृद्धि तो होगी परन्तु खर्च भी बढ़ेंगे। क्रोध एवं आवेश की अधिकता रहेगी। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। सन्तान की ओर से सुखद समाचार मिल सकते हैं। संचित धन में कमी आ सकती है। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)
 

मकर

8 मार्च 2021

संयत रहें। क्रोध के अतिरेक से बचें। बातचीत में सन्तुलित रहें। किसी सम्पत्ति से धनार्जन के साधन बन सकते हैं। मानसिक तनाव हो सकता है। लेखनादि-बौद्धिक कार्यों में व्यस्तता रहेगी। कारोबार का विस्तार हो सकता है। लाभ के अवसर मिलेंगे। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)

मकर

9 मार्च 2021

मन प्रसन्न रहेगा। धैर्यशीलता बनाये रखने के प्रयास करें। नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। आत्मसंयत रहें। क्रोध एवं आवेश के अतिरेक से बचें। पिता का सहयोग मिलेगा। नौकरी में कोई अतिरिक्त जिम्मेदारी मिल सकती है। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)

मकर

week11-2021

Not found

मकर

1 मार्च 2021

आत्मविश्वास तो भरपूर रहेगा, परंतु आलस्य भी रहेगा। कारोबार में वृद्धि होगी। 15 मार्च से कारोबार में परिश्रम अधिक रहेगा। किसी संपत्ति से धन की प्राप्ति हो सकती है। भाई बहनों का साथ रहेगा। किसी मित्र से नए कारोबार का प्रस्ताव मिल सकता है। लाभ में वृद्धि होगी। वाणी के प्रभाव से रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

मकर

1 जन॰ 2021

मकर- ( 22 दिसम्बर-19 जनवरी)
वर्ष के प्रारंभ में मन प्रसन्न रहेगा। आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। 5 जनवरी से कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। भवन सुख में वृद्धि हो सकती है। पिता से धन की प्राप्ति हो सकती है। परंतु पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। वस्त्रों पर खर्च बढ़ सकते हैं। छह अप्रैल से धन की स्थिति में सुधार होगा। कुटुम्ब/परिवार में धार्मिक कार्य होंगे। किसी परिचित के सहयोग से नौकरी के अवसर मिल सकते हैं। अथवा किसी नए कारोबार का प्रस्ताव मिल सकता है। 24 मई से मन में नकारात्मक विचारों से बचने का प्रयास करें। आय में कमी आ सकती है। रहन-सहन कष्टमय हो सकता है। 12 अक्तूबर से परिस्थितियों में सुधार होगा। 21 नवंबर से धन की स्थिति में सुधार होगा। 6 दिसंबर के बाद संपत्ति से धन की प्राप्ति हो सकती है।
उपाय-
1. नित्य हनुमान चालीसा का पाठ करें।
2. प्रतिदिन प्रातः तांबे के लोटे में जल भरकर उसमें थोड़े से चालव, चीनी व रोली डालकर भगवान सूर्य की तरफ मुंह कर जल अर्पित किया करें।
3. बुधवार के दिन गाय को हरा चारा या हरी सब्जी खिलाया करें।