Hindi Newsधर्म न्यूज़Rashifal Ketu Transit Horoscope 2024 movement of Ketu from July 8 will increase stress of 3 zodiacs

3 राशियों के जीवन में मचेगी खूब हलचल, 8 जुलाई से Ketu की चाल बढ़ाएगी टेंशन

  • Rashifal Ketu Transit Horoscope 2024 : जल्द ही केतु ग्रह उलटी चाल चलते हुए हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में गोचर करने जा रहा है। केतु के नक्षत्र परिवर्तन करते ही कुछ राशियों का बुरा वक्त शुरू हो सकता है।

Shrishti Chaubey नई दिल्ली,लाइव हिन्दुस्तान टीमThu, 4 July 2024 02:51 AM
हमें फॉलो करें

Rashifal Ketu Transit Horoscope 2024 : केतु इस वक्त कन्या राशि में विराजमान हैं और हस्त नक्षत्र में गोचर कर रहे हैं। जल्द ही केतु ग्रह उलटी चाल चलते हुए हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में गोचर करने जा रहा है। केतु की वक्री चाल से कुछ राशियों का बुरा टाइम भी शुरू हो सकता है। 8 सितंबर तक केतु हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में विराजमान रहने वाले हैं। इसके बाद केतु का गोचर हस्त नक्षत्र के प्रथम पद में होगा। आइए जानते हैं 8 जुलाई को केतु के नक्षत्र गोचर से किन राशियों की टेंशन बढ़ सकती है-

मेष राशि पर शनि की साढ़ेसाती कब होगी शुरू? 2025 में 1 राशि को मिलेगी मुक्ति!

तुला राशि

तुला राशि के जातकों आपके लिए हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में केतु का गोचर शुभ नहीं माना जा रहा है। आर्थिक जीवन में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। जीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। काम पूरा करने में रुकावटें आ सकती हैं। सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों के लिए हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में केतु का गोचर बहुत फायदेमंद नहीं माना जा रहा है। करियर में कलीग्स के साथ वाद-विवाद की स्थिति पैदा हो सकती है। आर्थिक तौर पर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। खर्च की अधिकता मन को परेशान कर सकती है। बेवजह का स्ट्रेस लेने से बचें।

कर्क राशि

हस्त नक्षत्र के द्वितीय पद में केतु का गोचर कर्क राशि वालों के लिए लाभदायक नहीं रहने वाला है। आर्थिक स्थिति में बदलाव हो सकता है। धन-हानि होने की संभावना है। नेगेटिव फील कर सकते हैं। पार्टनर के साथ मनमुटाव की स्थिति पैदा हो सकती है। सेहत भी खराब हो सकती है।

जुलाई से 5 महीने तक 3 राशियां रहेंगी धनवान, मां लक्ष्मी की रहेगी शुभ दृष्टि

केतु ग्रह उपाय

केतु ग्रह को मजबूत बनाने या प्रसन्न करने के लिए ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः । ॐ रां राहवे नमः ॥ मंत्र का जाप करें।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ऐप पर पढ़ें