DA Image
28 जनवरी, 2020|9:41|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्‍यक्‍ति को बहुत ही कल्‍पनाशील बना देता है यह ग्रह

व्‍यक्‍ति के जीवन में चंद्रमा का महत्‍वपूर्ण स्‍थान है। चंद्रमा मन का कारक है। चंद्रमा को इंसान के सबसे करीब भी माना गया है। जिस तरह चंद्रमा कुंडली में व्‍यक्‍ति का भाग्‍य तय करता है उसी तरह हाथ में चद्रमा की स्‍थिति व्‍यक्‍ति के बारे में बहुत कुछ बयां करती है। हथेली में चंद्रमा शुक्र ग्रह के उल्टी तरफ होता है। चंद्रमा को सुंदरता एवं भावना का ग्रह भी कहा गया है। यदि किसी व्‍यक्‍ति की हथेली में चंद्र पर्वत विकसित है तो वह बेहद ही भवुक एवं कल्‍पनाशील होता है।

विकसित चंद्रमा वाले लोग प्रकृति प्रेमी, सौंदर्यप्रिय और सपनों की दुनिया में विचरण करने वाले हाते हैं। ये हमेशा ख्वाबों में खोए रहते हैं। ऐसे लोगों में जीवन में ज्‍यादा कठिनाइयां नहीं झेलने की क्षमता भी नहीं होती। ऐसे जातकों को एकांत का माहौल पसन्द होता है। ऐसे व्यक्‍ति कलाकार ,संगीतज्ञ, वाचक और साहित्यकार होते हैं। ऐसे व्‍यक्‍ति किसी के गुलाम होकर कार्य नही करते और हमेशा स्वतंत्र रहकर कार्य करना चाहते हैं।
यदि चंद्र पर्वत सामान्य रूप में ही विकसित हो तो जातक हद से ज्यादा भावुक होते हैं। छोटी सी बात उन्‍हें झकझोर देती है। इनके अंदर किसी भी स्‍थिति का सामना करने का साहस नहीं होता। ऐसे लोग निराशा होकर जल्दी पलायन कर जाते हैं। यदि चंद्र पर्वत का झुकाव शुक्र पर्वत की और हो तो जातक कामुक होने के साथ साथ इतना गिर जाता है कि उसको अपने पराये में फर्क नहीं समझ आता। यदि चंद्र पर्वत पर आड़ी-टेड़ी रेखाएं हों तो जातक अपने जीवन में जल यात्रा करता है।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

चाणक्य नीति : प्रेम और विवाह के बारे में चाणक्य की बताई वो 5 बातें, जिन्हें समझकर अपने रिश्ते से किसी को नहीं हो सकती शिकायत

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:This planet makes a person very imaginative