DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   धर्म  ›  हस्तरेखा  ›  ऐसी है यह रेखा तो शादी में नहीं होती कोई रुचि
हस्तरेखा

ऐसी है यह रेखा तो शादी में नहीं होती कोई रुचि

पंचांग पुराण टीम ,मेरठ Published By: Praveen
Wed, 26 May 2021 10:58 PM
ऐसी है यह रेखा तो शादी में नहीं होती कोई रुचि

हाथ में विवाह रेखा का विशेष महत्व है। यह व्यक्ति के वैवाहिक जीवन के बारे में बताता है। यदि हाथ में विवाह रेखा मौजूद नहीं है तो ऐसे व्यक्ति को रिश्ते में रहने की कोई इच्छा नहीं होती। ऐसा व्यक्ति भावुक नहीं है और शादी के पक्ष में नहीं है। ऐसे व्यक्ति में आकर्षण एवं प्रेम की कमी होती है। विवाह रेखा की गैर-मौजूदगी व्यक्ति के जीवन में विवाह के हिस्सा नहीं होने का संकेत देती है। हालांकि यह स्थिति स्थाई नहीं होती। रेखाएं बदलती रहती हैं। 

यह भी पढ़ें: रोगों से मुक्ति पाने की शक्ति प्रदान करता है गंगाजल, नियमित करें प्रयोग

कई बार हाथ में दो विवाह रेखाएं होती हैं। दो रेखाओं का मतलब है कि दो विवाह होगा। हालांकि यह हमेशा समान नहीं होता। यदि रेखाएं स्पष्ट हैं तो यह अच्छे विवाह और रिश्ते का संकेत है। यदि रेखाएं समानात्मर और समान लंबाई की हैं भाग्य का परिवर्तन दिखाती हैं। लेकिन यदि स्थिति विपरीत है तो यह धोखे को इशारा करता है। विवाह रेखाओं की संख्या तीन या इससे अधिक होने पर व्यक्ति में रोमांटिक प्रवृत्ति को दर्शाते हैं। लेकिन शादी जैसे बंधन में बंधना नहीं चाहते। अंत में विवाह रेखा का विभाजन व्यक्ति के विवाह में समस्याओं को दर्शाती है। हो सकता है कि विवाद और विभिन्न परेशानियों के बाद विवाह की स्थिति बने। यदि विवाह रेखा शुरू में विभाजित है तो तलाक का संकेत देता है। यदि विभाजित रेखा बहुत सूक्ष्म या रेशेदार है तो स्थिति को संभाला जा सकता है। 
(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

संबंधित खबरें