DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेशों तक अपना व्‍यापार फैलाते हैं ऐसे रेखा वाले लोग

हस्‍तरेखा शास्‍त्र के अनुसार इस चिन्ह का होना शुभ और अशुभ दोनों संकेत देते हैं। यदि लाइफ लाइन से कोई रेखा निकलकर चन्द्र पर्वत की ओर जाती हुई यह लकीर उल्टी वाई बनाता है। यह रेखा देखने में बेहद सामान्य होती है, लेकिन व्यक्ति के जीवन में इसका बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है। हथेली में इस प्रकार की दो रेखाएं होती है। एक रेखा जो कि शुभ संकेत देने वाली होती है और दूसरा अशुभ संकेत देने वाली होती है। यदि रेखा जीवन रेखा होकर चंद्र पर्वत पर जाकर रुक जाती है। ऐसी स्थिति में बना वाई का निशान शुभ फलदायक माना गया है। ऐसे वाई के निशान जिस जातक की हथेली में होता है वो विदेश यात्रा करते हैं। आमतौर ये अपना व्यवसाय करते हैं जिसकी शाखा विदेशों में होती हैं। ऐसे लोग आर्थिक रूप से संपन्न होते हैं और खुशहाल जीवन जीते हैं।

जातक के हथेली की रेखा यदि जीवनरेखा से निकलकर साधारण वाई का निशान बना रही है तो यह अशुभ माना गया है। यह रेखा जीवन, जीवनशक्ति को कम करने वाली मानी जाती है। जिस उम्र में यह रेखा जीवन रेखा को काटती है उस उम्र में व्यक्ति की जीवनशक्ति कमजोर होने लगती है। जीवनशक्ति के कमजोर का मतलब होता है शारीरिक रूप से अधिक बीमार हो जाना। ऐसा भी हो सकता है कि उसके जीवन में इतनी अधिक परेशानियां हों कि उसका जीवन से मोह हटने लगे या मानसिक और शारीरिक रूप से वह अक्षम होने लगे। ऐसे लोगों को पक्षाघात होने की भी संभावना होती है।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। ये जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं  पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया  गया है।)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People who spread their business abroad
Astro Buddy