DA Image
24 फरवरी, 2020|12:54|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्‍यक्‍ति को बीमार बनाती हैं यहां की अधिक रेखाएं

शनि की ओर झुका सूर्य पर्वत भाग्यहीनता की निशानी माना जाता है। यह पर्वत यदि बुध की ओर झुका हो तो ऐसा जातक सफल व्यापारी और धनवान होकर समाज में सम्मान पाता है। लेकिन सूर्य पर्वत पर ज्यादा रेखाएं व्यक्ति को बीमार बनाती हैं।

पं.शिवकुमार शर्मा के अनुसार हथेली में सूर्य पर्वत न होने पर वह जातक मंद बुद्धि या निरक्षर होता है। ऐसा व्‍यक्‍ति शिक्षा के क्षेत्र में कुछ नहीं कर पाता। यदि सूर्य पर्वत कम विकसित हो तो ऐसे व्यक्ति सौंदर्य के प्रति रुचि होते हुए भी उसमें पूर्ण सफलता प्राप्त नहीं कर पाते हैं। स्पष्ट रूप से विकसित सूर्य पर्वत व्‍यक्‍ति में आत्मविश्वास, सज्जनता, दया, उदारता तथा धन वैभव की ओर इशारा करता है।

पूर्व विकसित सूर्य पर्वत वाला व्‍यक्‍ति समाज में दूसरों को प्रभावित करने की अद्भुत क्षमता रखता है। ऐसे जातक राष्‍ट्रीय एवं अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर सम्मानित भी होते हैं। लेकिन यदि सूर्य पर्वत जरूरत से ज्यादा विकसित हो जाए तो स्‍थितियां पलट जाती हैं। ऐसा व्‍यक्‍ति झूठी प्रशंसा करने वाला, फिजूलखर्ची वाला और झगड़ालू होता है। ऐसे लोग जीवन में कभी भी पूर्ण रूप से सफलता नहीं पाते। इनकी मित्रता भी सामान्य लोगों तक ही सीमित रहती है।

यदि सूर्य पर्वत शनि की ओर झुका हो तो वह व्यक्ति एकांतप्रिय और निराशावादी होता है एवं उसके पास सदैव धन की कमी बनी रहती है। ऐसे जातक एक कार्य को पूर्ण होने से पहले दूसरे कार्य में लग जाते हैं। इस वजह से दोनों कार्य पूरे नहीं होते।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

साल 2020 पर रहेगा राहु का असर, बचने के लिए अपनाएं ये 10 उपाय

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Makes the person sick more lines here