फोटो गैलरी

Hindi News विधानसभा चुनाव तेलंगाना चुनाव 2023Telangana Exit Poll 2023 Live Updates: तेलंगाना में BRS को स्पष्ट बहुमत नहीं, कांग्रेस ने बनाई बढ़त; त्रिशंकु विधानसभा के आसार

Telangana Exit Poll 2023 Live Updates: तेलंगाना में BRS को स्पष्ट बहुमत नहीं, कांग्रेस ने बनाई बढ़त; त्रिशंकु विधानसभा के आसार

Telangana exit poll 2023 live updates: 119 सदस्यीय राज्य विधानसभा के लिए हुए चुनाव के नतीजे 3 दिसंबर को आएंगे। उससे पहले एग्जिट पोल बता रहे हैं कि तेलंगाना में किसकी सरकार बनेगी।

Telangana Exit Poll 2023 Live Updates: तेलंगाना में BRS को स्पष्ट बहुमत नहीं, कांग्रेस ने बनाई बढ़त; त्रिशंकु विधानसभा के आसार
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,हैदराबादThu, 30 Nov 2023 11:04 PM
ऐप पर पढ़ें

Telangana exit poll 2023 live updates: तेलंगाना में आज यानी 30 नवंबर को मतदान संपन्न हो गया। मतदान संपन्न होते ही एग्जिट पोल्स (Telangana exit poll) भी आ गए हैं। एग्जिट पोल में कांग्रेस को सत्ताधारी TRS पर बढ़त दिख रही है। तेलंगाना के लिए CNN के पोल ऑफ पोल में कांग्रेस को 56 सीटें, भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) को 48 सीटें और अन्य को 0 सीटें मिलने का अनुमान है।

तेलंगाना के लिए अधिकतर एग्जिट पोल्स ने कांग्रेस को सत्ताधारी बीआरएस पर बढ़त बताई है। 119 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बहुमत के लिए किसी भी पार्टी को 60 सीटें चाहिए। तेलंगाना के लिए TV9 के एग्जिट पोल्स में कांग्रेस को बीआरएस पर बढ़त है। 

तेलंगाना के लिए टुडेज चाणक्या का एग्जिट पोल

टुडेज चाणक्या के मुताबिक, तेलंगाना की 119 सीटों में कांग्रेस रिकॉर्डतोड़ जीत हासिल करेगी। 

बीआरएस: 33 सीटें
कांग्रेस: 71 सीटें
भाजपा: 7 सीटें
अन्य: 8 सीटें 

तेलंगाना के लिए रिपब्लिक-मैट्रिक्स एग्जिट पोल 

बीआरएस: 46-56
कांग्रेस: 58-68 
भाजपा: 4-9 
AIMIM: 5-7 

तेलंगाना के लिए जन की बात एग्जिट पोल 

बीआरएस: 40-55
कांग्रेस: 48-64
भाजपा: 7-13
AIMIM: 4-7

तेलंगाना के लिए TV9 का एग्जिट पोल

बीआरएस: 48-58 
कांग्रेस: 49-59 
बीजेपी: 5-10 
अन्य: 6-8

तेलंगाना के लिए News18 का एग्जिट पोल

तेलंगाना के लिए News18 सीएनएन एग्जिट के पोल ऑफ पोल में भी कांग्रेस को बढ़त दिखाई गई है। सीएनएन एग्जिट पोल में तेलंगाना में त्रिशंकु विधानसभा की भविष्यवाणी की गई है, जिसमें कांग्रेस को 56 सीटें और बीआरएस को 48 सीटें मिलेंगी।

बीआरएस: 48 
कांग्रेस: 56 सीटें 
बीजेपी: 10
MIM: 5

तेलंगाना के लिए रिपब्लिक-मैट्रिक्स एग्जिट पोल 

बीआरएस: 46-56
कांग्रेस: 58-68 
भाजपा: 4-9 
AIMIM: 5-7 

तेलंगाना के लिए जन की बात एग्जिट पोल 

बीआरएस: 40-55
कांग्रेस: 48-64
भाजपा: 7-13
AIMIM: 4-7

10टीवी ने बीआरएस के लिए फिर से बड़ी जीत की भविष्यवाणी की है। 

बीआरएस- 68
कांग्रेस- 38
बीजेपी -5
एआईएमआईएम- 7

LIVE: यहां देखें सभी 5 राज्यों के एग्जिट पोल का हाल

बता दें कि 119 सदस्यीय राज्य विधानसभा के लिए हुए चुनाव के नतीजे 3 दिसंबर को आएंगे। उससे पहले एग्जिट पोल बता रहे हैं कि तेलंगाना में किसकी सरकार बनेगी। तेलंगाना में कुल पंजीकृत 3.26 करोड़ मतदाता हैं। बता दें कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी और सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) प्रमुख के. चंद्रशेखर राव (KCR) जैसे शीर्ष नेताओं ने धुंआधार चुनाव प्रचार किया। इस बार 2,290 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव, उनके मंत्री-बेटे के. टी. रामाराव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ए. रेवंत रेड्डी और भाजपा के लोकसभा सदस्य बी. संजय कुमार और डी अरविंद शामिल हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा नौ अक्टूबर को चुनावों की तारीख घोषित किए जाने के बाद से ही राज्य में आदर्श आचार संहिता लागू है। 

तेलंगाना में कौन कितनी सीटों पर लड़ रहा है?

तेलंगाना में सत्तारूढ़ बीआरएस ने सभी 119 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं जबकि भाजपा सीट बंटवारे के समझौते के अनुसार स्वयं 111 सीटों पर लड़ रही है और शेष आठ सीटें अभिनेता पवन कल्याण की अगुवाई वाली जन सेना के लिए छोड़ी है। कांग्रेस ने अपनी सहयोगी भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) को एक सीट दी है और स्वयं शेष 118 सीट पर लड़ रही है। असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन (एआईएमआईएम) ने हैदराबाद शहर के नौ निर्वाचन क्षेत्रों में अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

2014 से ही सत्ता पर काबिज है BRS

बीआरएस 2014 में शुरू हुई अपनी जीत के सिलसिले को आगे भी कायम रखने को लेकर उत्सुक है जबकि कांग्रेस 2018 में और उससे चार साल पहले हारने के बाद सत्ता पर काबिज होने के लिए संघर्ष कर रही है। कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के दौरान ही तेलंगाना को अविभाजित आंध्र प्रदेश से अलग कर राज्य का दर्जा दिया गया था। इस दक्षिणी राज्य में पहली बार सत्ता में आने के लिए भाजपा भी कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

दांव पर इन दिग्गजों की किस्मत 

मुख्यमंत्री राव दो निर्वाचन क्षेत्रों गजवेल और कामारेड्डी में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। वह निवर्तमान विधान सभा में गजवेल का प्रतिनिधित्व करते हैं। कामारेड्डी और गजवेल में रोमांचक मुकाबले देखने को मिल रहा है। कांग्रेस ने कामारेड्डी में मुख्यमंत्री का मुकाबला करने के लिए अपने प्रदेश अध्यक्ष रेवंत रेड्डी को मैदान में उतारा है जबकि भाजपा उम्मीदवार वेंकट रमण रेड्डी भी मजबूत माने जा रहे हैं।

गजवेल में भाजपा ने मुख्यमंत्री राव के खिलाफ अपने चुनाव अभियान अध्यक्ष एटाला राजेंद्र को मैदान में उतारा है। लोकसभा सदस्य रेवंत रेड्डी कोडंगल से भी चुनाव लड़ रहे हैं, जिसका उन्होंने पहले प्रतिनिधित्व किया था। भाजपा के राजेंद्र हुजुराबाद से दोबारा विधानसभा पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें