फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विधानसभा चुनाव तेलंगाना चुनाव 2023आरएसएस अन्ना; कांग्रेस ने ऐसा क्या किया जो भड़क गए असदुद्दीन ओवैसी, दिया नया नाम

आरएसएस अन्ना; कांग्रेस ने ऐसा क्या किया जो भड़क गए असदुद्दीन ओवैसी, दिया नया नाम

कांग्रेस के 'अल्पसंख्यक घोषणापत्र' पर असदुद्दीन ओवैसी ने जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि ये लोग हमारे क्षेत्र में तोड़-फोड़ चाहते हैं। कांग्रेस सदन का नाम बदलकर आरएसएस अन्ना कर देना चाहिए।

आरएसएस अन्ना; कांग्रेस ने ऐसा क्या किया जो भड़क गए असदुद्दीन ओवैसी, दिया नया नाम
Gaurav Kalaएएनआई,हैदराबादSun, 12 Nov 2023 08:07 AM
ऐप पर पढ़ें

तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए केसीआर की बीआरएस और कांग्रेस पार्टी के बीच सीधी टक्कर देखने को मिल रही है। बीजेपी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पार्टी इस बार के चुनाव में दिग्गजों को चौंकाने के लिए तैयार है। शनिवार को एक रैली में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस के अल्पसंख्यकों के लिए घोषणापत्र पर उन्होंने कहा कि ये लोग हमारे लोगों में झगड़ा कराना चाहते हैं, हमारे क्षेत्र में तोड़-फोड़ करना चाहते हैं, इसलिए कांग्रेस सदन का नाम बदलकर आरएसएस अन्ना कर देना चाहिए। 

कांग्रेस पार्टी पर तीखा हमला बोलते हुए एआईएमएम प्रमुख ने कहा, "इस कांग्रेस सदन को आज से एक नया नाम दिया जाना चाहिए - आरएसएस अन्ना। कांग्रेस ने घोषणा की है कि वे हैदराबाद में एक नया शहर बनाएंगे और हैदराबाद के लिए अलग से घोषणापत्र भी जारी करेंगे। बनाएंगे। क्योंकि आरएसएस से आया व्यक्ति हमारे इस क्षेत्र में तोड़-फोड़ करना चाहता है। इसलिए इनका नाम भी अब बदलना जरूरी हो गया है।"

दरअसल, तेलंगाना में विधानसभा चुनाव से पहले, कांग्रेस पार्टी ने अल्पसंख्यकों के लिए खास घोषणा की है। ऐलान किया कि पार्टी राज्य में अल्पसंख्यकों के सशक्तिकरण" के लिए काम करेगी। सत्ता में आने पर कांग्रेस पार्टी पहले छह महीनों के भीतर जाति जनगणना कराएगी। कांग्रेस ने अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए बजट को 4,000 करोड़ रुपये तक बढ़ाने का भी वादा किया। कहा कि वे मुस्लिमों के लिए समर्पित एक अलग योजना लाएंगे।

30 नवंबर को तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए अपने घोषणापत्र में, कांग्रेस ने कहा कि बेरोजगार अल्पसंख्यक युवाओं और महिलाओं के लिए सब्सिडी लोन के लिए हर साल 1,000 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे। कांग्रेस ने 'तेलंगाना सिख अल्पसंख्यक वित्त निगम' का भी वादा किया। जिसमें कहा गया कि वह 'अब्दुल कलाम तौफा-ए-'तालीम के तहत एमफिल और पीएचडी पूरा करने पर मुस्लिम, ईसाई और सिख युवाओं को 5 लाख रुपये की मदद करेंगे।

कांग्रेस के इस घोषणा पत्र पर ओवैसी जबरदस्त भड़के हुए हैं।