फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विधानसभा चुनाव गुजरात चुनाव 2022Gujarat Election 2022: एक साथ 16 सीटों को साधने की कोशिश, समझें पीएम मोदी के सबसे लंबे रोड शो के मायने

Gujarat Election 2022: एक साथ 16 सीटों को साधने की कोशिश, समझें पीएम मोदी के सबसे लंबे रोड शो के मायने

Gujarat Election 2022: गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 50 किलोमीटर लंबा रोड शो निकाल रहे हैं।

Gujarat Election 2022: एक साथ 16 सीटों को साधने की कोशिश, समझें पीएम मोदी के सबसे लंबे रोड शो के मायने
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 01 Dec 2022 09:00 PM
ऐप पर पढ़ें

Gujarat Election 2022: गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब तक का सबसे लंबा रोड शो कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी के करीब 50 किलोमीटर लंबे रोड शो के भी कई मायने हैं। राज्य की सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी (BJP) पीएम मोदी के इस रोड शो के जरिए एक नहीं, दो नहीं बल्कि 16 सीटों को साधने की कोशिश कर रही है। रोड शो की शुरुआत नरोदा गाम से हुई है जो गांधीनगर दक्षिण तक चलेगा। गुजरात चुनाव की अहमियत का अंदाजा इसे से लगाया जा सकता है कि पीएम मोदी ने अभी तक इतना लंबा रोड शो कभी नहीं किया था। सूरत में उनका एक रोड शो हुआ था जो करीब 28 किलोमीटर लंबा था।

गुजरात चुनाव को बीजेपी के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि गुजरात पीएम मोदी का गृहराज्य भी है। पीएम मोदी खुद भी गुजरात का मुख्यमंत्री रह चुके हैं। राज्य में 1995 से ही बीजेपी सत्ता में बनी हुई है और अब लगातार सातवें कार्यकाल के लिए पूरी ताकत झोक दी है। गुरुवार को गुजरात में पहले चरण के लिए राज्य की 89 सीटों पर वोट भी डाले गए। प्रधानमंत्री मोदी का यह रोड शो की अहमियत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इसकी शुरुआत नरोदा गाम से हुई है। 2002 के दंगों के दौरान नरोदा गाम दंगों के केंद्र में से एक था।

भूपेंद्र नरेंद्र के रिकॉर्ड को तोड़ें

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि पीएम मोदी का यह रोड शो दूसरे चरण के चुनाव के लिए काफी अहम साबित हो सकता है। गुजरात में बीजेपी का लक्ष्य अब तक की जीत के सारे रिकॉर्ड तोड़ने का है। गिर सोमनाथ जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि भूपेंद्र नरेंद्र के रिकॉर्ड को तोड़ें। यही वजह है कि चुनाव प्रचार में पीएम मोदी भी पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरे हुए हैं।

एंटी-इंकमबेंसी से बचने के लिए 38 विधायकों का काटा टिकट

बीते नौ महीनों में दो लाख करोड़ के प्रोजेक्ट्स गुजरात को मिलने से भी पार्टी काफी खुश है। किसी भी एंटी-इंकमबेंसी से निपटने के लिए पार्टी ने 38 विधायकों के टिकटों को काट दिया है। कई नये चेहरों को मैदान में उतारा है ताकि जनता का विश्वास जीता जा सके। अब तक बीजेपी का गुजरात में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2002 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में था, जो उस समय राज्य के मुख्यमंत्री थे। तब पार्टी को 127 सीटें मिली थीं। 1985 में माधवसिंह सोलंकी के नेतृत्व में कांग्रेस द्वारा अब तक की सबसे अधिक 149 सीटें जीती गई थीं।

कहां-कहां से होकर गुजरेगा पीएम मोदी का रोड शो

पीएम मोदी का यह रोड शो ठक्करबपानगर, बापूनगर, निकोल, अमराईवाड़ी, मणिनगर, दानीलिंबाडा, जमालपुर खड़िया, एलिसब्रिज, वेजलपुर, घाटलोडिया, नारनपुर और साबरमती सहित 16 सीटों से होती हुई गांधीनगर दक्षिण तक पहुंचेगी, जहां इसका समापन होगा। इस रोड शो में करीब चार घंटे का समय लगने वाला है। रोड शो इस चुनाव में भाजपा का सबसे बड़ा इवेंट है, जहां हजारों लोग पार्टी के झंडे लहराते हुए ढोल-नगाड़ों पर मार्च कर रहे हैं। मालाओं से सजे प्रधानमंत्री खुले एसयूवी में सवार होकर सड़कों पर उमड़ी भीड़ का हाथ हिलाते और उनका अभिवादन करते हुए नजर आए हैं।

बीजेपी ने बताया अब तक का सबसे लंबा रोड शो

भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि यह किसी भारतीय राजनीतिक नेता का सबसे लंबा रोड शो है। रोड शो के दौरान पंडित दीनदयाल उपाध्याय, सरदार वल्लभभाई पटेल और नेताजी सुभाष चंद्र बोस सहित कई प्रसिद्ध हस्तियों का स्मारक भी पड़ेगा। रोड के दौरान छोटे-बड़े कुछ 35 पड़ाव बनाए गए हैं। बीजेपी ने नरोदा सीट से एक दंगा दोषी की बेटी पायल कुकरानी को मैदान में उतारा है। 30 साल की पायल कुकरानी नरौदा पाटिया दंगों के मामले में 16 दोषियों में से एक मनोज कुकरानी की बेटी हैं।

गुरुवार को पहले चरणों की वोटिंग खत्म

 गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 89 विधानसभा सीटों पर गुरुवार शाम पांच बजे तक औसतन 59.24 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। निर्वाचन अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पहले चरण में 788 उम्मीदवारों की चुनावी किस्मत का फैसला होगा। इस चरण में सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिणी क्षेत्रों के 19 जिलों की 89 सीट के लिए मतदान हुआ।