DA Image
31 मार्च, 2020|4:39|IST

अगली स्टोरी

'आप' के नेता अरविंद केजरीवाल ने बताया आखिर कौन है उनका असली वोट बैंक?

arvind kejriwal

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि उनका वोट बैंक धर्म या जाति पर आधारित नहीं है, बल्कि उनका वोट बैंक वे सभी लोग हैं जो बेहतर शिक्षा, इलाज, आधुनिक सड़कें और 24 घंटे बिजली चाहते हैं। केजरीवाल ने कहा कि ये चुनाव देश में एक नई तरह की राजनीति कायम करेंगे जो कि काम पर आधारित राजनीति है।

उन्होंने कहा कि पहले यह कहा जाता था कि सरकार द्वारा किए गए काम के आधार पर वोट नहीं दिए जाते हैं। यदि आप वोट हासिल करना चाहते हैं तो आपको जाति और धर्म के आधार पर अपना वोट बैंक बनाने की जरूरत होती है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने 'पीटीआई-भाषा को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ''मेरा वोट बैंक वे लोग हैं जो अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा देना चाहते हैं, जो बेहतर इलाज चाहते हैं, जो अपने घरों के सामने सड़कें बनवाना चाहते हैं, जो 24 घंटे बिजली चाहते हैं।

पूरे चुनाव प्रचार के दौरान केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में विधानसभा चुनाव 'आप' सरकार के कार्यों के आधार पर लड़ा जाएगा।

कच्ची कॉलोनियों के मुद्दे पर लोगों को मूर्ख बना रही है भाजपा 

अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर दिल्ली विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अनाधिकृत कॉलोनियों को भूलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी लोगों को वैसे ही मूर्ख बना रही है जैसे कि कांग्रेस सत्ता में रहते हुए करती थी।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि भाजपा नेता इन दिनों शाहीन बाग की बात कर रहे हैं जहां लगभग एक महीने स नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं, लेकिन वे दिल्ली की अनाधिकृत कॉलोनियों के बारे में बात नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी राजनीतिक रैलियों में अनाधिकृत कॉलोनियों के मुद्दे का कोई जिक्र नहीं किया। उन्होंने कहा कि पिछले चार महीनों में, उन्होंने केवल 20 लोगों को रजिस्ट्री दी। इससे आप अंदाजा लगा सकते है कि अनाधिकृत कॉलोनियों के 40 लाख निवासियों को रजिस्ट्री देने में वे कितना समय लेंगे।

'आप' नेता ने कहा कि भाजपा अनाधिकृत कॉलोनियों पर लोगों को मूर्ख बना रही है जैसा कि कांग्रेस किया करती थी। राष्ट्रीय राजधानी के चुनावों में अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले लोग महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। 

दिल्ली में विधानसभा चुनाव आठ फरवरी को होगा जिसमें सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी, भाजपा और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला देखा जा रहा है।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:My vote bank not religion or caste-based but people who want good education medical facilities says arvind kejriwal