DA Image
25 नवंबर, 2020|8:43|IST

अगली स्टोरी

छपरा में बोले पीएम मोदी- मां आप छठ पूजा की तैयारी करो, चिंता करने के लिए आपका बेटा दिल्ली में बैठा है

pm modi said in chhapra  maa aap chhath puja 2020 ki taiyari karo aap ka beta delhi me baitha hai

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बिहार के छपरा में रैली की। पीएम ने छठ पूजा का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा कोरोना काल में आप लोगों को छठ पूजा कैसे मनाए इसकी चिंता करने की जरूरत नहीं है। आपका बेटा दिल्ली में बैठा है। आप तो बस छठ पूजा की तैयारी करो।  उन्होंने कहा कि जब छठी मईया की पूजा के दौरान, गंगाजी के किनारे हजारों-हजार महिलाओं की भीड़ जुटती है, तो उनकी सबसे बड़ी जरूरत होती है, साफ गंगा जी का पानी, स्वच्छता। गंगा जी के पानी को स्वच्छ करने के लिए बीते वर्षों में जो प्रयास हुए हैं, उसका असर आप भी देख रहे हैं।

पीएम ने कहा कि दुनिया में आज कोई ऐसा नहीं है, जिसे कोरोना ने प्रभावित न किया हो, जिसका इस महामारी ने नुकसान न किया हो। उन्होंने कहा कि एनडीए की सरकार ने कोरोना की शुरुआत से ही प्रयास किया है कि वो इस संकटकाल में देश के गरीब, बिहार के गरीब के साथ खड़ी रहे। गरीबों को मुफ्त अनाज दे रहे हैं। पीएम ने कहा कि कोरोना के काल में किसी मां को ये चिंता करने की जरूरत नहीं है कि छठ पूजा को कैसे मनाएंगे। अरे मेरी मां! आपने अपने बेटे को दिल्ली मैं बैठाया है, तो क्या वो छठ की चिंता नहीं करेगा ! मां!  तुम छठ की तैयारी करो, दिल्ली में तुम्हारा बेटा बैठा है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार में एक और विकास का डबल इंजन है तो दूसरी ओर डबल-डबल युवराज भी हैं।  इनमें से एक डबल युवराज तो जंगलराज का युवराज है।  पीएम ने कहा कि डबल इंजन वाली एनडीए सरकार, बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, तो ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। ये डबल युवराज, बिहार के लिए नहीं सोच सकते, बिहार की जनता के लिए नहीं सोच सकते। उन्होंने कहा कि यूपी में एक बार डबल युवराज काले कोट पहनकर बस के ऊपर चढ़कर लोगों के सामने हाथ हिला रहे थे।  यूपी की जनता ने वहां उन्हें घर लौटा दिया था। वहां के एक युवराज अब जंगलराज के युवराज से मिल गये हैं। यूपी में जो डबल-डबल युवराज का हुआ, वो ही बिहार में होगा। 

उन्होंने कहा कि बिहार के नौजवान याद करें कि बचपन में उनकी मां कहती थीं- घर के भीतर ही रहो, बाहर मत निकलना, बाहर ‘लकड़सुंघवा’ घूम रहा है। बच्चों की माताएं उन्हें लकड़सुंघवा से क्यों डराती थीं? उन्हें डर था अपहरण करने वालों से, किडनैपिंग करने वालों से। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:PM Modi said in Chhapra maa aap Chhath Puja 2020 ki taiyari karo aap ka beta delhi me baitha hai