DA Image
26 अक्तूबर, 2020|7:53|IST

अगली स्टोरी

बिहार चुनाव 2020: प्रत्याशियों के परिजनों ने संभाली प्रचार की कमान

bihar elections 2020  bihar assembly elections  jamui assembly seat  bihar news

जमुई जिले की चारों विधान सभा सीट पर प्रत्याशियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी। इस चुनाव में जमुई विधान सभा सीट पर तीन राजनीतिक घरानों का भविष्य दांव पर लगा है। वहीं कुछ निर्दलीय एवं दलीय प्रत्याशी भी पांव जमाने के प्रयास में हैं। जमुई सीट पर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी श्रेयसी की इंट्री के बाद यह सीट हॉट सीट बन गयी है। इस सीट पर अब सूबे के दिग्गजों की नजर भी है। 

राजनीतिक रूप से सशक्त जमुई विधान सभा सीट पर जहां भाजपा से पूर्व केंद्रीय मंत्री दिग्विजय सिंह की पुत्री श्रेयसी को चुनाव मैदान में उतारा है तो राजद के टिकट पर वर्तमान विधायक विजय प्रकाश पर ही भरोसा दिखाते हुए टिकट दिया है। वहीं भाजपा से टिकट कटने के बाद अजय प्रताप ने भी चुनावी मैदान में ताल ठोक कर रालोसपा के टिकट से मैदान में है। इस बार चुनाव प्रचार हाईटेक तो है ही प्रत्याशियों के अपने भी चुनावी समर में कूद पड़े हैं। जमुई में श्रेयसी सिंह के प्रचार की कमान जहां उनकी मां सह पूर्व सांसद पुतुल कुमारी ने संभाल रखी है।

विजय और अजय की पत्नी कर रहीं प्रचार
राजद प्रत्याशी विजय प्रकाश की पत्नी भी चुनाव प्रचार में लगी हैं। इसी प्रकार अजय प्रताप की पत्नी भी अपने पति के लिए प्रचार कर रही हैं। झाझा में दामोदर रावत की कमान उनके अनुज शैलेंद्र कुमार रावत ने संभाल रखी है। राजद में इस बार पूर्व मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव पूरे चुनाव के दौरान नजर नहीं आए। पिछले दो दशक से जमुई के हर चुनाव में उनकी भूमिका अहम होती थी। इस बार उनकी पुत्री दिव्या प्रकाश तारापुर से चुनावी मैदान में है ।

निर्दलीय ने लगाया जोर
झाझा विधान सभा सीट पर भाजपा से बेटिकट होकर लोजपा की टिकट पर चुनाव लड़ रहे र्रंवद्र यादव ने मुकाबले को रोचक बना दिया है। पूर्व मंत्री दामोदर रावत को सरकार के विकास कार्य पर भरोसा है। जबकि पहली बार राजद के टिकट से मैदान में आए राजेंद्र यादव भी चुनावी समर लगे हैं।  राजद से टिकट पाने की उम्मीद जताए विनोद यादव मैदान में हैं।

पुत्र और भाई भी कर रहे चुनाव का प्रचार
चकाई में दो दलीय प्रत्याशी के बीच निर्दलीय प्रत्याशी भी चुनौती दे रहे हैं। जदयू के टिकट पर विधान पार्षद संजय प्रसाद मैदान में हैं तो राजद ने पुन: सावित्री देवी पर दांव खेला है। किसी के भाई तो किसी पिता तो किसी के पुत्र चुनावी समर में कूदे हुए हैं। राजद प्रत्याशी सावित्री देवी के पुत्र विजय शंकर यादव तो जदयू प्रत्याशी संजय प्रसाद के भाई गोपेश कुमार मोर्चा संभाल रहे हैं। वहीं निर्दलीय सुमित कुमार्र ंसह की कमान पूर्व मंत्री नरेंद्र्र ंसह के हाथों में है। हालांकि फिलहाल वे बीमार हैं लेकिन पटना से ही पूरे क्षेत्र के लोगों से संपर्क साधने में लगे हैं। इस बार जमुई जिले के चारों विधानसभा का मुकाबला काफी दिलचस्प होनेवाला है। देखना होगा कौन बाजी मारता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bihar vidhan sabha chunav jamui district candidates put all their strength in four assembly seats relatives of candidates are also campaigning