DA Image
2 दिसंबर, 2020|3:28|IST

अगली स्टोरी

बिहार चुनाव 2020: नक्सल प्रभावित क्षेत्र में भी जातीय भंवरजाल में वोटर

जाति का जहर। सोच की जकड़न। राजनीति का छलिया चरित्र। बाहुबल-धनबल की ठसक। झूठे सपनों का सब्जबाग। सब कुछ इतना हावी है कि असल चुनावी मुद्दे गौण हो गए हैं। जहां विकास की बात होनी चाहिए थी, पांच साल का हिसाब-किताब होना चाहिए था, उम्मीदवारों की काबिलियत देखनी चाहिए थी, वहां जाति और भावनाओं का खेल चल रहा है। नक्सल प्रभावित गया जिले के लगभग सभी विधानसभा का चुनाव, जातीय भंवरजाल में ही फंसा हुआ दिख रहा है। 

जाति के आधार पर टिकट: गया नक्सल प्रभावित जिला है। जिले के 10 विधानसभा में से सात विधानसभा क्षेत्र नक्सल समस्या के साथ जी रहा है। लेकिन चुनाव का रंग देखिए कि हर विधानसभा में जातीय समीकरण देख कर पार्टियों ने टिकट दी। सोशल इंजीनयरिंग वाला दिमाग खूब लगाया गया। भाजपा,कांग्रेस,राजद, जदयू, कोई भी जाति के भंवरजाल से बाहर नहीं है। नक्सल प्रभावित इमामगंज में एक भी सरकारी डिग्री कॉलेज नहीं हैं। सिंचाई व्यवस्था खराब है।  लेकिन चुनावी माया ऐसी कि ये सारे सवाल गौण हो गए हैं।

विकास पर कोई बात नहीं
बोधगया में शिक्षण संस्थानों की भरमार जरूर है। आईआईएम बोधगया जैसे संस्थान हैं, लेकिन ग्रामीण छात्रों को डिग्री देनवाला मगध यूनिवर्सिटी भी यहीं है, जो तीन के बदले पांच साल में डिग्री दे रहा है। दुनियाभर के लाखों पर्यटक जरूर आते हैं, लेकिन शहर से कुछ ही दूरी पर गरीबों की पूरी दुनिया है, जिनकी समस्या को खत्म करने के लिए कोई नहीं आता। वजीरगंज में जातीय बहुलता देखकर लगातार टिकट दिया जाता रहा है, लेकिन यहीं पर बिहार का मैनचेस्टर यानि पटवा टोली अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है।  टेकारी विधानसभा क्षेत्र में एक अनुमंडलीय अस्पताल है, लेकिन एक्स—रे तक नहीं हो पा रहा है। गुरुआ विधानसभा का चाल्हो पहाड़ माओवादियों का शरण स्थली बना हुआ है। बेलागंज में बीठो बियर बांध 30 साल बाद भी नहीं बन पाया।

शिक्षा-स्वास्थ्य की बात नहीं
बाराचट्टी विधानसभा पूरी तरह नक्सल प्रभावित है। शिक्षा की स्थिति बहुत खराब है। एक भी डिग्री कॉलेज नहीं है। बाराचट्टी के सीएचसी में 13 साल से कोई महिला डॉक्टर नहीं है। बरंडी बराज परियोजना लटकी हुई है। लेकिन चुनाव में विकास नहीं, जातीय गुणा-गणित पर ज्यादा जोर है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bihar Election 2020: Voters in Naxalite area affected in Caste network gaya news