DA Image
2 दिसंबर, 2020|5:14|IST

अगली स्टोरी

समस्तीपुर में पीएम मोदी के निशाने पर RJD, जंगलराज के युवराज क्या बिहार में उचित माहौल का विश्वास दे सकते हैं?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार की जनता ने जंगलराज वालों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दिया है। उन्होंने पश्चिम चंपारण के बहुअरवा (बगहा) में रविवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आशंका के विपरीत पहले चरण के चुनाव में भारी मतदान के लिए बिहार की जनता बधाई का पात्र है। पहले चरण में ही स्पष्ट हो गया है कि बिहार की जनता ने एक बार फिर नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार का मन बना लिया है। पीएम ने कहा कि अगले दो चरणों में भी जंगलराज वालों से बहुत सावधान रहना है।

प्रधानमंत्री ने जंगलराज और एनडीए शासन में फर्क गिनाते हुए कहा कि जंगलराज में बिहार की सड़कें  खस्ताहाल थीं, एनडीए की सरकार बनी तो सड़क-पुल और रेल परियोजनाओं से कनेक्टिविटी बढ़ी। एनडीए गरीबों के हित की बात करता है, वे बिचौलियों के हित की बात करते हैं। जंगलराज अंधेरा वापस लाना चाहता है, एनडीए घरों को दुधिया बल्ब से प्रकाशित कर रहा है। उन्होंने सूबे को दशकों तक तीन मेडिकल कॉलेज के भरोसे रखा, आज  हर लोकसभा क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए काम हो रहा है।

बगहा में बोले पीएम, जंगलराज वालों से रहना है बहुत सावधान

इससे पहले मोतिहारी के गांधी मैदान में आोजित सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार ने जंगल राज का अंधेरा पीछे छोड़ दिया है। बिहारवासियों को जंगलराज के युवराज से अलर्ट रहना है। इन्हें अगर बिहार के विकास की इतनी चिंता रहती तो राज्य इतना पीछे नहीं रहता। इन्हें चिंता है कि अपनी बेनामी संपत्ति को कैसे छिपाएं।  उन्होंने कहा कि मतदान का महत्व जितना बिहारी जानता है उतना कोई नहीं। अगले चरण में और अधिक उत्साह से मतदान होगा। आत्मनिर्भर बिहार के रोड मैप की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि अगली बार नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार बनने पर इस दिशा में तेजी से काम होगा। कहा कि मोतिहारी मछलियों के मीठे पानी का बड़ा केंद्र बन सकता है। इसके लिए मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत बिहार से ही हुई है। यहां के सुगौली चीनी मिल में इथेनॉल का हो रहा उत्पादन, जिसकी अभी काफी मांग है। यहां स्थापित पिपराकोठी कृषि विज्ञान केंद्र व डेयरी प्लांट की चर्चा की। उन्होंने कहा कि इस बार यहां आना खास इसलिए है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू होने के बाद पहली बार यह आये हैं, उन्होंने कहा कि इस भूमि का जुड़ाव रामायण के सृजन से है।

पीएम मोदी ने विपक्षी दलों के नेताओं को बताया परिवारवाद का पोषक

इससे पहले समस्तीपुर के हाउसिंग बोर्ड मैदान में आयोजित चुनावी सभा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र्र मोदी ने विपक्षी दलों पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने विपक्षी दलों को परिवारवाद का पोषक बताने के साथ ही लोकतंत्र का विरोधी भी बताया। उन्होंने कहा कि इन लोगों को समाज या राज्य की चिंता नहीं है। इन्हें सिर्फ अपने परिवार की चिंता है। जबकि एनडीए सबका साथ, सबका विश्वास के सिद्धांत पर काम रहा है। राजनीति में नीतीश कुमार या उनके परिवार के कोई सदस्य नहीं हैं। बगैर भेदभाव के सुशासन ही एनडीए का लक्ष्य है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विकास के काम का भी विपक्ष के नेता विरोध करते हैं। आयुष्मान भारत, जनधन खाता, स्वच्छ भारत अभियान, उज्जवला गैस योजना आदि का विपक्ष ने मजाक उड़ाया जबकि जनता को इससे काफी लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि जंगलराज की विरासत व उसके युवराज बिहार के लोगों को शांति और विकास का माहौल नहीं दे सकते हैं। वहीं फैक्ट्री बंद कराना वामपंथ का इतिहास रहा है। 

विद्यापति, बाबा केवल के साथ गलवान घाटी में शहीद हुए जिले के मोहिउद्दीननगर के जवान शहीद अमन का नाम लेने के साथ प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि कोरोना की बंदिशों के बीच सभा में भारी संख्या में लोगों का आना इस बात का परिचायक है कि अगले 10 नवम्बर को क्या चुनाव परिणाम होगा।

बगहा और समस्तीपुर की सभा को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी संबोधित किया। बगहा की सभा में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल, जल संसाधन मंत्री संजय झा ,सांसद सतीश चंद्र दुबे ने भी संबोधित किया। सभा का संचालन पूर्व सांसद जनक चमार ने किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bihar chunav ki tazahabar pm narendra modi ki samaastipur me chunavi rally rjd congress tejashwi yadav rahul gandhi par bola hamla