DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   विधानसभा चुनाव  ›  बंगाल चुनाव 2021  ›  बंगाल में हिंसा को लेकर पीएम मोदी का ममता को जवाब- समस्या केंद्रीय बल नहीं, आपकी भड़काऊ बयानबाजी है

बंगाल चुनाव 2021बंगाल में हिंसा को लेकर पीएम मोदी का ममता को जवाब- समस्या केंद्रीय बल नहीं, आपकी भड़काऊ बयानबाजी है

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Ashutosh Ray
Sat, 10 Apr 2021 04:36 PM
बंगाल में हिंसा को लेकर पीएम मोदी का ममता को जवाब- समस्या केंद्रीय बल नहीं, आपकी भड़काऊ बयानबाजी है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पश्चिम बंगाल के कृष्णानगर में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे हैं। रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिंसा को लेकर राज्य की मुख्यमंत्री और टीएमसी की मुखिया ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला। पीएम मोदी ने विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि समस्या केंद्रीय बल नहीं हैं, आपकी भड़काउ बयानबाजी है। पीएम मोदी ने कहा कि 'आज दीदी, केंद्रीय वाहिनी को गाली दे रही हैं। आज दीदी, EVM को गाली दे रही हैं। हालत तो ये है कि दीदी आज अपनी पार्टी के ही पोलिंग एजेंट्स को गाली देने लगी हैं।'

पीएम मोदी ने कहा कि लोकतंत्र के उत्सव में भी दीदी आप माताओं-बहनों के आंसू गिरने की वजह बन रही हैं। आपकी दुर्नीति ने बंगाल का ये हाल कर दिया है। केंद्रीय वाहिनी पूरे देश में चुनाव करवाती है, निष्पक्ष चुनाव करवाती है। याद रखिए, ये 2021 का बंगाल है। अब आपको लोकतंत्र से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। आप बंगाल के लोगों को डराने की, उनमें भय फैलाने की जितनी कोशिश कर रही हैं, उतने ही ज्यादा लोग आपको हराने के लिए एकजुट हो रहे हैं।

बंगाल का चुनाव बंगाल की जनता लड़ रही है
पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि आप इस बात को समझिए, ये दृष्य देखिए! बंगाल का चुनाव सिर्फ भाजपा नहीं लड़ रही है, बंगाल का चुनाव बंगाल की जनता लड़ रही है। बीजेपी की डबल इंजन सरकार, बंगाल को नया राजनीतिक वातावरण देगी। सरकार के फैसले सरकार तय करेगी तोलाबाज नहीं। प्रशासन के फैसले प्रशासन लेगा, तोलाबाज नहीं। पुलिस के फैसले, पुलिस करेगी, तोलाबाज नहीं। इस बार बैसाख की आंधी, टीएमसी सरकार और उसके गुंडों को भी उड़ा कर ले जाएगी।

2 मई से बंगाल में असोल परिवर्तन का महायज्ञ
हार तय देखकर उन्होंने बंगाल से बाहर की राजनीति करने का फैसला कर लिया है। बनारस वाली बात ऐसे ही नहीं उछाली गई है। यानि चुनाव के बाद दीदी की एग्जिट होगी और टीएमसी पर भाइपो नया खेल खेलने का दाव लगाएगा। ये भी एक खैला है, जो बंगाल के लोगों को समझना होगा। 2 मई से बंगाल में असोल परिवर्तन का महायज्ञ शुरू होगा। ये महायज्ञ तुष्टिकरण, तोलाबाजी करने वालों, बंगाल की महान जनता का तिरस्कार करने वालों को सबक सिखाएगा।

संबंधित खबरें