DA Image
8 मई, 2021|1:06|IST

अगली स्टोरी

ममता ने पीएम मोदी को चैलेंज देकर कहा- छोड़ दूंगी राजनीति या आपको कान पकड़कर करना होगा उठक-बैठक

west bengal chief minister and tmc chief mamata banerjee address during an election campaign rally

चुनाव प्रचार पर लगी पाबंदी खत्म होने कुछ मिनट बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बारासात में की गई चुनावी रैली में मंगलवार को कहा कि उन्हें प्रचार से रोकने की कोशिश की जा रही है। लेकिन वह जमीन से जुड़ी योद्धा हैं और डराने धमकाने के भाजपा के हथकंडे के आगे नहीं झुकेंगी।

इस दौरान ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा, "नरेंद्र मोदी ने कृष्णानगर में एक बैठक में कहा कि ममता दीदी ने मतुआ समुदाय के लिए कुछ नहीं किया। मैं सार्वजनिक रूप से उन्हें चुनौती स्वीकार करने के लिए कह रही हूं। अगर मैंने उनके लिए कुछ नहीं किया, तो मैं राजनीति छोड़ दूंगी, लेकिन अगर आप झूठ बोल रहे हैं तो आपको कान पकड़कर उठक-बैठक करना होगा।"

सीएम ने बारासात की इस रैली में कहा, "ममता बनर्जी ने सभी से एकजुट होकर वोट देने की अपील करके क्या गलती की? मुझे हिंदू, मुस्लिम, सिख, क्रिसचन, माताओं, बहनों, छात्रों और युवाओं से वोट चाहिए।"

आज निर्वाचन आयोग द्वारा 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार से रोके जाने पर बनर्जी ने दिन में साढ़े तीन घंटे तक धरना दिया। बनर्जी ने कहा कि राज्य के लोग उन्हें चुनाव प्रचार करने से रोकने और भाजपा के नेताओं को प्रचार करने की अनुमति देने के मामले में फैसला करेंगे। बनर्जी ने बारासात में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ''भाजपा प्रचार कर सकती है और मुझे अनुमति नहीं दी गयी। मैं कुछ नहीं कहूंगी, बंगाल के लोग इस पर निर्णय करेंगे। वे हर चीज देख रहे हैं।"

खुद को जमीन से जुड़ी योद्धा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह ''भाजपा के डराने-धमकाने के हथकंडे के आगे नहीं झुकेंगी। उन्होंने कहा कि भाजपा और उसकी एजेंसियों द्वारा मुझे प्रचार से रोकने के लिए कोशिशें की जा रही हैं। बनर्जी ने कहा, ''भाजपा मुझे चुनाव प्रचार से रोकना चाहती है क्योंकि उन्हें आसन्न हार का अंदाजा हो गया है।" 

बता दें कि निर्वाचन आयोग ने केंद्रीय सुरक्षा बलों के खिलाफ टिप्पणी और धार्मिक लहजे वाले बयान के लिए बनर्जी के प्रचार करने पर सोमवार रात आठ बजे से 24 घंटे के लिए पाबंदी लगा दी थी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने उनके चुनाव प्रचार करने पर 24 घंटे की पाबंदी के निर्वाचन आयोग के फैसले के विरोध में मंगलवार को कोलकाता में करीब साढ़े तीन घंटे तक धरना दिया।

ममता पिछले महीने चोटिल होने के कारण आज व्हीलचेयर पर बैठकर सुबह करीब 11 बजकर 40 मिनट पर यहां मायो सड़क पहुंचीं और उन्होंने महात्मा गांधी की प्रतिमा के निकट बैठकर धरना शुरू किया। इस दौरान सुरक्षा बलों ने उस क्षेत्र को घेर रखा था।धरना के समय तृणमूल के किसी नेता या समर्थक को उनके पास नहीं देखा गया।

इस संबंध में सवाल किए जाने पर तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ''प्रदर्शन स्थल के निकट किसी पार्टी नेता को जाने की अनुमति नहीं थी। वह वहां अकेली धरना पर बैठीं।"

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mamta challenged PM Modi and said - if I have not done anything for them then I will leave politics