DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

त्वचा और बालों से जुड़ी समस्याओं से ऐसे पाएं निजात

monsoon skin care

इस सीजन ट्रेंड में यूं तो ब्लैक या इंक ब्लैक हेयर कलर चल रहा है लेकिन मैं यह कलर नहीं करवाना चाहती, कृपया बताएं कि मैं अपने बालों में कौन सा कलर लगा सकती हूं।
2019 के ट्रेंड के अनुसार यदि आप जेट ब्लैक या इंक ब्लैक कलर नहीं करना चाहती हैं तो ऐश ग्रे हेयर शेड का चुनाव करें। बालों को ऐसे डाई करें कि जड़ों की तरफ वे डार्क रहें और जैसे-जैसे ऊपर बढ़ते जाएं, लाइट होते जाएं। यह लुक आपको अलग कर देगा। ट्रेंड के अनुसार यदि किसी कूल हेयर कलर शेड का इस्तेमाल करना चाहती हैं तो बेबी ब्लॉन्ड हेयर कलर लगा सकती हैं, इससे नया लुक मिलेगा। चॉकलेट रोज गोल्ड हाईलार्इंटग के लिए लोगों की पहली पसंद है, इसे आजमा सकती हैं, साथ ही बालों के सिरों पर और ब्राउन टोन का टचअप करें।

मेरी उम्र 25 साल है, बिंदी लगाने की वजह से मेरे माथे पर व्हाइट पैच मार्क जैसा दिखने लगा है, क्या इसे किसी फेस पैक से दूर किया जा सकता है।
जब स्किन का रंग हल्का पड़ना शुरू हो जाए और उस हिस्से के बाल सफेद होने शुरू हो जाएं तो समझें कि यह केमिकल ल्यूकोडर्मा हो सकता है। जरूरी है कि आप डॉक्टर को दिखाएं। दरअसल, खराब क्वॉलिटी की बिंदी में मोनोबंजाइल ईस्टर्स ऑफ हाइड्रोक्यूनोन  पदार्थ पाया जाता है, जिससे सफेद दाग होता है, इसलिए अच्छी क्वॉलिटी की बिंदी ही लगाएं।

मेरी उम्र 29 साल है। जब भी बालों में मेहंदी लगाती हूं, कुछ दिनों तक स्कैल्प में ईचिंग होती रहती है। मेहंदी में 1 अंडा, दही, 1 नीबू और विटामिन ई के 2 कैप्सूल मिलाती हूं। कृपया बताएं कि मुझे इस तरह की प्रॉब्लम क्यों होती है?
मेहंदी में अंडा, दही, नीबू और विटामिन ई के कैप्सूल मिलाना अच्छा है और इससे कोई हानि नहीं होती लेकिन र्इंचग के लिए आपको किसी स्किन स्पेशलिस्ट को दिखाना चाहिए, क्योंकि यह  मेहंदी का रिएक्शन हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार, मेहंदी को उसके गुणों के लिए जाना जाता है लेकिन कई बार हर्बल कहे जाने वाले उत्पादों में भी खतरनाक केमिकल्स देखने को मिलते हैं।
 
मेरी उम्र 40 साल है। मुझे बताएं कि इस उम्र में मुझे सीरम या क्रीम में से किसका उपयोग करना चाहिए?
सीरम में त्वचा को रिपेयर करने वाले तत्व कॉन्संट्रेटेड फॉर्म में होते हैं, जिस कारण यह कम मात्रा में लगता है और ज्यादा असरदार होता है जबकि क्रीम माइल्ड होती है। इसलिए माना जाता है कि सीरम क्रीम की तुलना में बेहतर और ज्यादा असरदार है। 
अपनी त्वचा की सही देखभाल के लिए रोज सुबह चेहरे को सही ढंग से साफ करें। संभव हो तो लाइट स्क्रब करने के बाद कोलोजन सीरम का इस्तेमाल करें। इसका नियमित इस्तेमाल स्किन को रिपेयर कर उसे प्रोटेक्ट व हाइड्रेट करेगा, साथ ही र्एंजग की प्रक्रिया को धीमा करेगा। 
रात में सोने से पहले एएच यानी अल्फा हाईड्रॉक्सी एसिड सीरम लगाएं। ड्राई स्किन के लिए क्रीम का इस्तेमाल ठीक है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Get rid of problems related to skin and hair