DA Image
12 दिसंबर, 2020|1:31|IST

अगली स्टोरी

अब बनाइए घर पर ही माउथ फ्रेशनर

आज के समय में आपकी ताजा सांसों को भी वर्कप्लेस पर शिष्टाचार की श्रेणी में रखा जाता है। हालांकि सांसों में बदबू आने के पीछे सिर्फ हाइजीन की कमी ही जिम्मेदार नहीं होती। आपकी जीवनशैली, आपके खाने की आदतें और आपका पाचन तंत्र, यह सब कुछ आपकी सांसों से आने वाली बदबू के लिए जिम्मेदार होती है। इसके अलावा मुंह की सेहत का ख्याल न रखने के कारण भी मुंह से बदबू आती है, क्योंकि ऐसे में विषाणु मुंह में जमा होते चले जाते हैं। 

क्यों आती है मुंह से बदबू?
सैन्य अस्पताल के डाक्टर ए पंजियार के अनुसार, ‘सांसों की दुर्गंध के पीछे एक नहीं, बल्कि कई कारण जिम्मेदार होते हैं। इनमें आपका खानपान और पाचन प्रक्रिया सबसे अहम हैं। इसके अलावा तंबाकू युक्त पदार्थों का सेवन, मुंह में संक्रमण, दांतों की खराब सेहत, मुंह में रूखापन, दवाओं का बहुत सेवन आदि भी इसके लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। मुंह की बदबू को दूर करने के लिए सबसे पहले जरूरी है कि इसका मूल कारण पता किया जाए।  प्राकृतिक साधनों के जरिए इस समस्या से निपटा जा सकता है। इनमें सौंफ, इलायची का सेवन, नीम के दातुन से दांतों की सफाई व नमक से कुल्ला करना जैसे उपाय शामिल हैं।’ 
हालांकि सांसों की इस समस्या से निपटने के लिए एक अच्छा माउथवॉश भी कारगर हो सकता है, लेकिन हर समय माउथवॉश से कुल्ला कर पाना हर किसी के लिए भी संभव नहीं हो सकता। इसके बजाए एक माउथ फ्रेशनर हमेशा साथ रखना ज्यादा बेहतर विकल्प है। बाजार में मिलने वाले माउथ फ्रेशनर में कृत्रिम मिठास हो सकती है। इनकी जगह आप घर पर ही माउथ फ्रेशनर तैयार कर सकती हैं। इन्हें बनाना जितना आसान है, उतना ही आसान अपने साथ रखना भी है। 

धनिया और सौंफ वाला फ्रेशनर 
सामग्री 

  • एक चौथाई कप साबुत सौंफ 
  • एक चौथाई कप साबुत धनिया  
  • एक चम्मच दालचीनी पाउडर    
  • मिश्री (स्वाद के लिए)

ऐसे बनाएं: यह बहुत जल्दी से बनने वाला माउथ फ्रेशनर है, जिसमें बेहद सामान्य सामग्रियों का इस्तेमाल होता है। धनिया और दालचीनी बेहतर पाचन प्रक्रिया के लिए जाने जाते हैं और खाने के बाद इन्हें लेना और भी अच्छा हो जाता है। साबुत सौंफ को पांच मिनट तक सूखा भूनें। फिर धनिया के बीजों को दो से तीन मिनट तक भूनें और सौंफ में मिलाएं। इसमें एक चम्मच दालचीनी पाउडर और पिसी मिश्री मिलाएं। सभी सामग्रियों को अच्छे से मिलाएं और एयर टाइट डिब्बे में बंद करके रखें। जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल करें। 

खरबूजे और अलसी के बीज
सामग्री 

  •  दो चम्मच खरबूजे के बीज
  •   एक चम्मच अलसी के बीज
  •   मिश्री (स्वादानुसार)

ऐसे बनाएं: यह फ्रेशनर भी आसानी से बनता है, और लंबे समय तक चलता है। खरबूजे के बीज को तीन से चार मिनट तक सूखा भूनें और अलग रखें। इसके बाद अलसी के बीजों को तब तक भूनें, जब तक चटकने ना लगे। दोनों बीजों को मिलाएं और उसमें मिश्री या गुड़ का पाउडर मिलाएं। एयरटाइट डिब्बे में रखें और जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल करें।

नारियल और अदरक फ्रेशनर
सामग्री 

  • आधा कप घिसा हुआ नारियल 
  • दो चम्मच साबुत सौंफ 
  • एक चम्मच सूखा अदरक पाउडर

ऐसे बनाएं: यह आम तरीके के माउथ फ्रेशनर से कुछ अलग है, क्योंकि इसमें नारियल और सूखा अदरक पाउडर मिला हुआ है। अदरक की मदद से पाचन प्रक्रिया बेहतर होती है और नारियल का बुरादा आपके मुंह में मीठा स्वाद देने के साथ ही अच्छी महक लाता है। घिसे हुए नारियल को भूरा होने तक भूनें। इसमें एक चुटकी सूखा अदरक पाउडर मिलाएं और दो चम्मच साबुत सौंफ डालें। सभी सामग्रियों को अच्छे से मिलाएं। इस फ्रेशनर को एक हफ्ते से ज्यादा इस्तेमाल न करें, क्योंकि नारियल उससे ज्यादा वक्त तक खाने लायक नहीं रहता। 

पुदीना और लौंग फ्रेशनर
सामग्री 

  • एक चौथाई कप पुदीने की पत्तियां 
  • एक चम्मच लौंग 
  • एक चम्मच दालचीनी पाउडर 
  • एक चम्मच मिश्री 

ऐसे बनाएं: पुदीने की पत्तियों में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट मौजूद होते हैं, साथ ही यह सांसों की बदबू को दूर रखने में भी मददगार होती है। पोदीने का स्वाद काफी वक्त तक मुंह में अपना असर बनाए रखते हैं। पुदीने की पत्तियों को सूखा भूनें। सुनिश्चित करें कि यह काली न पड़ें। इसमें एक चम्मच लौंग डालें और इन्हें पीसकर पाउडर बना लें। इसमें एक चुटकी दालचीनी पाउडर और मिश्री डालकर अच्छे से मिलाएं। फ्रेशनर इस्तेमाल करने के लिए तैयार है। 

तुलसी और रोजमैरी फ्रेशनर
सामग्री: 

  • दो चम्मच तुलसी पाउडर 
  • एक चम्मच रोजमैरी पाउडर
  • एक चम्मच इलायची पाउडर 
  • एक चम्मच मिश्री  

ऐसे बनाएं: अगर आपको अल्सर की समस्या है तो यह फ्रेशनर आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। तुलसी की पत्तियां शरीर की रोग प्रतिरोधी क्षमता को मजबूत बनाने में कारगर होती हैं। अन्य दूसरी सामग्रियों के साथ इसे मिलाने से सांस की दुर्गंध कई घंटों तक दूर रहती है। दो चम्मच तुलसी पत्ती का पाउडर लें। आप पत्तियों को सुखाकर उन्हें पीस कर पाउडर बना सकती हैं। इसमें एक चम्मच रोजमैरी पाउडर और इलायची पाउडर की कुछ मात्रा मिलाएं। इसमें स्वादानुसार मिश्री मिलाएं। आपका फ्रेशनर इस्तेमाल के लिए तैयार है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:How to make mouth freshener at home