DA Image
7 जुलाई, 2020|4:55|IST

अगली स्टोरी

आओ राजनीति करें: अब नारी की बारी आएगी

आओ अब राजनीति करें

अब नारी की बारी आएगी

जो आवाज अब तक दबायी गयी 

वो दहाड़ बनकर बाहर आएगी 

जो फैसलों में दब कर रह जाती थी 

अब वो खुद फैसले सुनाएगी 

ये गाड़ी अब एक पहिये पर नहीं चल पायेगी 

अब नारी की बारी आएगी 

घर में ही मन मसोस रह जाती थी जो 

वो अब वोट भी डालने जाएगी 

देती है देश को डाक्टर और इंजीनियर जो 

वो अब प्रधानमंत्री भी बनाएगी 

बेहतर कल को बेहतर आज बनाएगी 

अब नारी की बारी आएगी 

बनाती है मकान को घर जो 

वो अब सरकारें बनाएगी 

गृहस्थी की शिक्षा देता था जिसको हर कोई 

वो अब देश को राजनीति सिखाएगी 

देश को तरक्की पथ पर ले जाएगी 

अब नारी की बारी आएगी।