class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नैनीताल में बीए की छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी

नैनीताल में बीए की छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी

नगर से करीब पांच किमी दूर पिटरिया गांव में शुक्रवार को बीए की एक छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी। हालांकि आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है, लेकिन पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। जानकारी के अनुसार पंगोट मार्ग स्थित राजकीय पॉलीटेक्निक के समीप पिटरिया गांव निवासी शालिनी (18) पुत्री मुन्ना लाल शुक्रवार को घर में अकेली थी। शाम करीब सवा पांच बजे उसकी बहन पूनम, रेनू व किरन कॉलेज से घर पहुंचे तो कमरे में तेज आवाज में गाने बज रहे थे। इसी दौरान उन्होंने दरवाजा खोला तो अंदर का दृश्य देख उनके होश उड़ गए। शालिनी ने छत में लगी बल्ली से दुपट्टा बांध फांसी लगा रखी थी। बहनों ने तत्काल इसकी जानकारी पड़ोसियों को दी। मौके पर आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। ग्रामीणों ने मामले की सूचना मल्लीताल कोतवाली में दी। इस पर एसआई बीसी मासिवाल तथा दीपक बिष्ट टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटना के बारे में जानकारी ली। पुलिस के अनुसार शनिवार को पंचनामा भर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा जाएगा। युवती के पिता मुन्ना लाल नैनीताल में नाव चालक हैं, जबकि माता सुनीता देवी हाईकोर्ट में काम करती हैं। शालिनी डीएसबी परिसर में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। उसकी मौत के बाद परिजन सदमे में हैं। फिलहाल मौत के कारणों का पता नहीं चल सका है। परिजनों के अनुसार शालिनी किसी युवक से रोजाना फोन पर बात करती थी। आत्महत्या का कदम उठाने से पहले भी उसने युवक से फोन पर बात की थी। फिलहाल पुलिस को तहरीर नहीं दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हालशालिनी उर्फ शालू के आत्महत्या करने से उसकी माता सुनीता देवी सदमे में हैं। अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। सुनीता का कहना था कि चार बेटियों में दूसरे नंबर की शालू उसकी सबसे चहेती थी। साथ ही वह सबसे ज्यादा जिम्मेदार भी थी। यही नहीं शालू मल्लीताल स्थित किसी कपड़े की दुकान पर नौकरी भी करती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BA student make a suicide in Nainital
अम्तुल्स, बिड़ला और सेंट जोसफ विजयीकर्मचारी संगठन के साथ सौतेले बर्ताव का आरोप