class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्यावरणविद् डॉ. अनिल जोशी के बड़े भाई पत्रकार कमल जोशी की संदिग्ध हालात में मौत

वरिष्ठ पत्रकार कमल जोशी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। गोखले मार्ग स्थित उनके आवास से पंखे के सहारे उनका शव लटका मिला। जबकि पास में ही लोहे की सीढ़ी रखी हुई थी और जोशी के पैर भी जमीन को छू रहे थे।

पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। घटना की जानकारी मिलते ही उनके आवास पर लोगों की भीड़ लग गई। बाजार चौकी के इंचार्ज प्रदीप नेगी ने बताया कि उन्हें फोन पर सूचना मिली कि  गोखले मार्ग स्थित आवास में पत्रकार कमल जोशी का शव खूंटी पर लटका हुआ है। इसके बाद मौके पर पहुंच कर शव कब्जे में ले लिया। आसपास के लोगों ने बताया कि स्व. जोशी रोजाना की तरह सोमवार सुबह घूमकर घर लौटे थे। नौ बजे के बाद वह नजर नहीं आए।

शाम को किसी काम से पड़ोसी युवक उनके आवास पर पहुंचा तो अंदर का दृश्य देखकर हक्का-बक्का रह गया। उसने आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी। जोशी पद्मश्री डॉ. अनिल जोशी के बड़े भाई थे। उधर, मंगलवार को पुलिस ने पत्रकार कमल जोशी की जेब से सुसाइड नोट निकलने की बात कही है। हालांकि देहरादून से फोरेंसिक टीम इसकी जांच कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Senior journalist Kamal Joshi died in suspicious circumstances
Exclusive : उत्तराखंड में पांच सौ आधार केंद्रों पर लटक जाएंगे ताले, जानिए वजहGST का असर : रसोई गैस कनेक्शन महंगा हुआ, जानिए कितनी बढ़ी कीमतें