class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड की बेटी रेनू बनीं पेटीएम पेमेंट बैंक की पहली सीईओ 

चमोली जिले की रेनू सती ऑनलाइन वॉलेट कंपनी पेटीएम पेमेंट बैंक की सीईओ बनी हैं। आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट बैंक के पहले सीईओ के रूप में 41 वर्षीय रेनू के नाम पर मुहर लगाई है। 
रेनू गौचर के पास झालीमठ गांव की मूल निवासी हैं। फिलहाल वह अपनी मां के साथ दिल्ली में रहती हैं। नोटबंदी के बाद ऑनलाइन पेमेंट के रूप में बेहतर विकल्प देने वाली कंपनियों में शामिल पेटीएम ब्रांड के साथ पिछले 13 सालों से जुड़ीं रेनू ने अपना प्रोफेशनल कॅरियर में पहला बड़ा मुकाम तब मिला था, जब वह 2003 में मदर डेयरी के साथ बतौर एचआर जुड़ीं। इसके बाद वह मैनपॉवर समूह के एचआर डिपार्टमेंट में असिस्टेंट मैनेजर बनीं। वन-97 कम्यूनिकेशन के साथ उनका नाता सितम्बर 2009 से जुड़ा। जहां वह सीढ़ी दर सीढ़ी तरक्की करती हुईं एसोसिएट्स वाइस प्रेसीडेंट-कॉरपोरेट डेवलेपमेंट के जिम्मेदार पद पर पहुंचीं। इसी कंपनी के साथ बतौर वाइस प्रेसीडेंट वह पिछले तीन साल से काम कर रही थीं। पेटीएम का संचालन करने वाली इस कंपनी ने हाल में पेटीएम पेमेंट बैंक के नाम से नया बिजनेस शुरू किया है। जो 23 मई को लांच किया जाएगा। सीईओ के नाम के लिए अन्य दावेदारों के मुकाबले रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने रेनू के वजनदार प्रोफाइल को देखते हुए उनके नाम पर सहमति जताई। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Renu Sati resident of Uttarakhand became the first CEO of Paytm Payment Bank
केदारनाथ आपदा के चार साल बाद भी केदारघाटी में मिले सात नरकंकाल, हड़कंपVIDEO : गंगा की धारा के लिए सर्वे करने पहुंचे केंद्रीय जल संस्थान राज्यमंत्री का विरोध