class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल से वीडियो मैसेज भेजकर कुख्यात राठी ने कारोबारी से मांगी 2 करोड़ की रंगदारी 

बागपत जेल में बंद कुख्यात सुनील राठी द्वारा दून निवासी कारोबारी से रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। रंगदारी मांगने के बाद व्यापारी ने पुलिस से संपर्क भी किया, जिस पर उसे सुरक्षा भी दी गई, लेकिन अब करीब एक माह बाद व्यापारी ने सुरक्षा वापस कर दी है।

चर्चा है कि व्यापारी ने बदमाश के आगे आखिरकार समझौता करना ही बेहतर समझा। दून के डालनवाला थाना क्षेत्र निवासी कारोबारी का कोतवाली क्षेत्र में कारोबार है। सूत्रों के मुताबिक करीब दो महीने पहले कारोबारी के फोन पर एक वीडियो मैसेज आया। जिसमें सुनील राठी जेल के अंदर से ही दो करोड़ रुपये की डिमांड करता दिखा। राठी ने रकम ना देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी। वीडियो मिलने पर घबराए कारोबारी ने दून पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने तत्काल कारोबारी को सुरक्षा भी प्रदान कर दी। लेकिन इसके एक माह बाद मामले में नया मोड़ आ गया। 

अब कारोबारी ने खुद अपनी सुरक्षा वापस कर दी। इसके तुरंत बाद पुलिस जांच की फाइल भी अंदरखाने बंद कर दी गई। सूत्रों के मुताबिक, दून के अलावा ऋषिकेश ढालवाला और सेलाकुई के एक-एक कारोबारी से राठी गैंग की ओर से हाल फिलहाल रंगदारी मांगी गई है। हालांकि, इस पर पुलिस कुछ कहने को तैयार नहीं है। एसएसपी देहरादून निवेदिता कुकरेती का कहना है कि उक्त कारोबारी ने काफी दिन पहले इस तरह की शिकायत की थी। जिस पर पुलिस ने जांच शुरू करते हुए कारोबारी को सुरक्षा भी दी। लेकिन अचानक कारोबारी ने सुरक्षा यह कहते हुए लौटा दी है कि अब उन्हें इस मामले में कोई शिकायत नहीं है। 

सुरक्षा मिलने के बाद भी मिलीं धमकियां 

सूत्रों की मानें तो कारोबारी को सुरक्षा मिलने के बाद भी धमकी मिलती रही। एक दिन सुरक्षा कवर के बीच दिल्ली जाते समय हाईवे पर मुजफ्फरनगर स्थित एक ढाबे में रुकने के दौरान राठी ने कारोबारी को फोन कर यह कहते हुए चौंका दिया कि आज तो वो उनके ही क्षेत्र में है। इससे घबराया कारोबारी वहीं से देहरादून लौट आया। साथ ही कुछ दिन बाद पुलिस सुरक्षा भी लौटा दी है। चर्चा है कि कारोबारी ने बदमाश के गुर्गों से 20 लाख रुपये में समझौता कर लिया। 

मां हुई है गिरफ्तार 

कुख्यात सुनील राठी के नाम से रुड़की के व्यक्ति से रंगदारी मांगने के आरोप में हाल में पुलिस ने राठी की मां राजबाला को गिरफ्तार किया है। जबकि उसके गैंग संचालकों के खिलाफ रंगदारी मांगने के कई मुकदमे दर्ज हैं। चर्चा है कि राठी गैंग यूपी में होने वाले नगर निकाय चुनाव के लिए रकम जुटाने के लिए वसूली तेज कर रहा है। 

सेल्फी से लगेगी शिक्षकों की हाजिरी और सेल्फी से ही छुट्टी, एप तैयार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rangdari demanded from businessman
अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत के लिए खेलेगा देहरादून का ये बाक्सर उत्तराखण्ड : फायर सर्विस और उद्यान विभाग में भर्ती, जानें पूरी प्रक्रिया