class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूल बसों में नहीं लगा रहे जीपीआरएस और कैमरे

सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देश के बाद ही स्कूल बसों में जीपीआरएस और सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए जा रहे हैं। उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने शुक्रवार को शहर के दो स्कूलों का निरीक्षण किया। दोनों ही स्कूल की बसों में जीपीआरएस और सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे थे। आयोग की ओर से इस मामले में स्कूलों से रिपोर्ट मांगी गई है।

बाल आयोग की सदस्य सीमा डोरा शुक्रवार को जीआरडी स्कूल और राजाराम मोहन राय स्कूल का निरीक्षण किया। उनका यह दौरान सुप्रीम कोर्ट के उन दिशा-निर्देशों पर था, जिसमें निजी स्कूलों की परिवहन व्यवस्था में सुरक्षा इंतजाम को परखा जा रहा है। सीमा डोरा ने बताया कि जीआरडी स्कूल और राजाराम मोहन राय स्कूल की बसों में जीपीआरएस और कैमरे नहीं लगे हैं। जीआरडी स्कूल ने छात्रों के परिवहन के लिए 13 बसें लगाई हैं, इनमें कुछ के ड्राइवर ने ड्रेस नहीं पहनी थी। स्कूल प्रबंधन को शौचालय के लिए आया की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए गए।

इधर, राजा राम मोहन राय स्कूल में निरीक्षण के दौरा सीमा डोरा के साथ स्कूल प्रिंसिपल काले रमन और अध्यक्ष एके देव भी मौजूद रहे। यहां पीअीए के साथ ही शिकायत पेटी भी लगी मिली। स्कूल के वॉशरूम के बाहर कैमरे नहीं थे। स्कूल ने पैरेंट्स कार्ड भी जारी किए हैं। स्कूल की तीन बसें हैं, लेकिन इनमें सीसीटीवी कैमरे और जीपीआरएस नहीं लगा है। स्कूल की ओर से बताया गया कि उनके यहां आरटीई के तहत कुछ ऐसे बच्चों के दाखिले भी हुए हैं, जिनकी आय निर्धारित मानकों से ज्यादा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:GPRS and cameras not being installed at school buses
DGP के इस फरमान से दिवाली गिफ्ट नहीं ले सकेंगे पुलिसवालेदिवाली के बाद तेज होगा राज्य कर्मचारियों का आंदोलन