class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमित शाह लेंगे त्रिवेंद्र सरकार की छमाही परीक्षा, भांपेंगे उत्तराखंड का सियासी मूड

amit shah

उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार का पहला छमाही इम्तहान करीब आ गया है। 19 सितंबर को दून आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सरकार और संगठन के कामकाज की समीक्षा करेंगे। साथ ही वह उत्तराखंड का मूड भी भांपने की कोशिश करेंगे। इस दौरान शाह वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी को नई दिशा भी देकर जाएंगे। इसका पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। 

मालूम हो कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आगामी 18 सितंबर को अपना छह माह का कार्यकाल पूरा करने जा रही है। ऐसे में राज्य सरकार का रिपोर्ट कार्ड परखा जाएगा। सूत्रों के अनुसार सांसद-विधायकों के साथ प्रस्तावित बैठक में सरकार का कामकाज ही मुख्य मुद्दा होगा। शाह के सामने पेश करने के लिए सरकार हर विभाग का 6 माह की हर छोटी-बड़ी उपलब्धि का ब्योरा तैयार करा रही है।  

असंतोष का सख्त इलाज

भाजपा नेताओं के बीच हाल में उभरे असंतोष का उपचार भी शाह करेंगे। खासकर हरिद्वार में हालिया वक्त में भाजपा नेताओं के समर्थकों की मारपीट के मामलों पर उनका फोकस होगा। सूत्रों के अनुसार संगठन स्तर से शाह पहले इसकी रिपोर्ट भी ले चुके हैं। शाह के खुद दून आने के पीछे इस असंतोष को भी वजह माना जा रहा है। 

संगठन की तैयारियां पूरी

शाह के दौरे को लेकर भाजपा संगठन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। गुरुवार को प्रदेश कार्यालय में हुई बैठक में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने बताया,राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यक्रम बनाकर हाईकमान को भेज दिया है। वहां से मंजूरी के बाद शुक्रवार को कार्यक्रम जारी कर दिया जाएगा। बैठक में टिहरी सांसद माला राजलक्ष्मी, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, खजान दास, पूर्व सांसद बलराज पासी, संगठन महामंत्री संजय कुमार, नरेश बंसल, प्रदेश प्रवक्ता विनय गोयल, आदित्य चौहान आदि मौजूद थे। 

19 को सुबह पहुंचेंगे शाह

सूत्रों के अनुसार शाह 19 सितंबर की सुबह जौलीग्रांट हवाई अड्डे पर पहुंचेंगे। वहां से वे सड़क मार्ग से सीधे होटल मधुबन पहुंच सीएम और मंत्रियों की बैठक लेंगे। इसके बाद ओएनजीसी के ऑडिटोरियम में बैठक लेंगे। 20 को पार्टी मुख्यालय में ई लाइब्रेरी का उद्घाटन करेंगे। वहीं पार्टी संगठन और मंडलों के पदाधिकारियों की बैठक लेंगे। दोपहर में बलबीर रोड पर दलित कार्यकर्ता के घर खाना खाने जाएंगे। लौटकर फिर पार्टी कार्यालय में बैठक करेंगे। 

2019 के आम चुनाव को दिखाएंगे दिशा

शाह आगामी आम चुनाव को लेकर भी पार्टी को दिशा दे सकते हैं। 20 सितंबर को उनका कार्यकर्ताओं के साथ खुला सत्र होगा। 19 को वह सरकार-संगठन के कामकाज के आकलन और जनता के मूड को भांपने के बाद तैयार की गई रणनीति के अनुसार शाह कार्यकर्ताओं को लोकसभा चुनाव के लिए दिशा देंगे।

उत्तराखंड का सियासी मूड भी भांपेंगे शाह

सरकार के कामकाज के साथ ही शाह उत्तराखंड का सियासी मूड भी भांपने की कोशिश करेंगे। दो दिवसीय दौरे में शाह जहां राज्य के विभिन्न क्षेत्रों के कुछ विशिष्ट लोगों के साथ गुफ्तगू करेंगे, वहीं दून स्थित ओएनजीसी के केडीएमपीआई सभागार में प्रबुद्ध लोगों के साथ भी उनका संवाद होना है। इन दोनों कार्यक्रम को जनता की नब्ज समझने की कोशिश माना जा रहा है।

बुलाने पर भी बैठक में नहीं पहुंचे विधायक

पार्टी सूत्रों के अनुसार शाह के दौरे की तैयारी को पार्टी मुख्यालय में हुई बैठक में देहरादून के सभी विधायकों को बुलाया गया था। पर पहुंचे सिर्फ मुन्ना चौहान और खजान दास, बाकी कोई विधायक नहीं आया। इस दौरान विनोद चमोली को लेकर खास चर्चाएं रहीं। बताया जा रहा है कि चमोली को फोन कर और स्पेशल मैसेंजर भेजकर निमंत्रण दिया गया पर वे नहीं आए। इसे सरकार और संगठन से उनकी नाराजगी के तौर पर देखा जा रहा है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP president Amit Shah will arrive in Dehradun on September 19
ऑपरेशन थियेटर की बिजली गुल, मोबाइल की रोशनी में गर्भवती महिला की सर्जरी!ओएनजीसी में कर्मचारी यूनियन ने गेट मीटिंग कर उठाई अपनी मांग