class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साबरमती एक्सप्रेस विस्फोट: AMU के पूर्व स्कॉलर वानी 16 साल बाद कोर्ट से हुए दोषमुक्त

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पूर्व स्कॉलर एवं हिजबुल मुजाहिदीन के संदिग्ध सदस्य गुलजार अहमद वानी को बाराबंकी अदालत ने वर्ष 2000 में साबरमती एक्सप्रेस में हुए विस्फोट का षड़यंत्र रचने के मामले में आज दोषमुक्त करार दे दिया। आरोपी के वकील के अनुसार अदालत ने सबूतों के अभाव के कारण वानी और सह आरोपी मोबिन को रिहा कर दिया।

वकील एम एस खान ने फोन पर कहा, अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एम ए खान ने दोनों आरोपियों को सभी आरोपों से मुक्त कर दिया क्योंकि अभियोजन उनके खिलाफ लगाए गए किसी भी आरोप को साबित नहीं कर सका।

ये भी पढ़ें: बाबरी मामला: पूर्व सांसद राम विलास वेदांती समेत 5 ने किया CBI स्पेशल कोर्ट में सरेंडर

वानी को दिल्ली पुलिस ने वर्ष 2001 में कथित रूप से विस्फोटकों एवं आपत्तिजनक सामग्रियों के साथ गिरफ्तार किया था। वह श्रीनगर के पीपरकारी इलाके का निवासी है और इस समय लखनऊ की एक जेल में है।

यह विस्फोट स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर उस समय किया गया था जब ट्रेन मुजफ्फरनगर से अहमदाबाद जा रही थी। इस विस्फोट में नौ लोगों की मौत हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Former Scholar of AMU acquitted after 16 years in sabarmati express blast case
बाबरी मामला: पूर्व सांसद राम विलास वेदांती समेत 5 ने किया CBI स्पेशल कोर्ट में सरेंडर, मिली बेलVIDEO: यूपी में बस पर गिरी हाईटेंशन लाइन, एक जिंदा जला; 4 घंटे बाद पहुंचे अफसर