class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में जुलाई से बिजली महंगी होगी

elecricity

यूपी पावर कॉरपोरेशन घाटे से उबरने के लिए जुलाई से बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी की तैयारी कर रहा है। इसके लिए प्रस्ताव विद्युत नियामक
आयोग को भेजा जा रहा है। हालांकि आगामी चुनावों को देखते हुए छोटे घरेलू उपभोक्ताओं को बढ़ोत्तरी से राहत मिल सकती है। व्यवसायिक और
औद्योगिक बिजली महंगी हो जाएगी। 

बिजली दरों को बढ़ाने के लिए कारपोरेशन की ओर से प्रस्ताव तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जून तक प्रस्ताव आयोग को भेजा
जाएगा। आयोग की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद जुलाई से इसे लागू किया जा सकता है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बढ़ोत्तरी कितनी
होगी लेकिन माना जा रहा है कि 15 से 20 फीसदी तक की बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव दिया जा सकता है। अंतिम निर्णय नियामक आयोग करेगा।
प्रस्ताव में तीन किलोवाट तक विद्युत भार वाले छोटे उपभोक्ताओं को राहत देने की भी संभावना जताई जा रही है। इस बढ़ोत्तरी से सबसे अधिक
व्यवसायिक-औद्योगिक उपभोक्ताओं पर असर पड़ने वाला है।

उद्योगों को पहले से महंगी बिजली 
आईआईए के सदस्य सुरेश सुंदरानी कहते हैं कि उद्योगों को पहले सही महंगी बिजली मिल रही है। बढ़ोत्तरी छोटे और मध्यम उद्योगों के लिए
नुकसानदायक होगा। अधिकतम पांच से सात प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी होती है तब तो कुछ राहत रहेगी अन्यथा मुश्किलें आएंगी। 

दरों की बढ़ोत्तरी के लिए प्रस्ताव तैयार कर नियामक आयोग को भेजा जाएगा। जून तक यह प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। बिजली खरीद की दरें
लगातार बढ़ रही हैं इसलिए बढ़ोत्तरी आवश्यक है।
- विशाल चौहान, एमडी, पॉवर कॉरपोरेशन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:electricity price to hike from July
भेदभाव: योगी के लिए लगा AC-सोफा, अबदुल्ला बोले- ये राहुल के दौरे पर होता तो मच जाता घमासानइनसे सीखें: दूल्हे के लड़खड़ाते हुए कदमों को देख दुल्हन ने लौटाई बारात