class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रायबरेली में भाजपाइयों की धमकी से नाराज महिला डॉक्टरों ने दी इस्तीफे की धमकी

up raebareli(Representational image)

भाजपा नेताओं के उत्पीड़न से क्षुब्ध होकर गुरुवार को बछरावां सीएचसी की चार महिला डॉक्टरों ने इस्तीफे की धमकी दी है। नाराज चिकित्सकों ने सीएमओ दफ्तर पहुंचकर आपत्ति दर्ज करायी। कहा कि भाजपा के कुछ नेता उन्हें धमका रहे हैं। चिकित्सकों ने गुरुवार को सुरक्षा की मांग करते हुए कहा कि भय की हालत में वे काम नहीं कर पा रही हैं। सीएमओ ने जांच कराकर कार्रवाई के निर्देश दिए।

सीएमओ ने महिला चिकित्सकों को भरोसा दिलाया कि उन्हें पूरी सुरक्षा मिलेगी उनके साथ किसी भी तरह की अप्रिय घटना नहीं होने दी जाएगी। बछरावां सीएचसी में कार्यरत डॉ. सुप्रिया सिंह, डॉ. पारूल सिंह, डॉ. गरिमा चौधरी और डॉ. सुंदारिका यादव ने गुरुवार को इस्तीफे की धमकी दी है। महिला चिकित्सकों ने सीएमओ कार्यालय पहुंचकर कथित भाजपा नेताओं द्वारा काम न करने देने का आरोप लगाया।

महिला चिकित्सकों ने सीएमओ को बताया कि अस्पताल में पहुंचकर खुद को भाजपा नेता बताने वाले तीन लोग ओपीडी नहीं करने दे रहे हैं। साथ ही जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। महिला चिकित्सकों का आरोप है कि युवक बाजार से दवाएं लिखने का दबाव भी बना रहे हैं। उनके इशारे पर काम नहीं करने पर उत्पीड़न कर रहे हैं। चिकित्सकों ने कहा कि ऐसी स्थित में वे काम करने को तैयार नहीं है। वे सीएचसी बछरावां में स्वयं को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। जब तक सुरक्षा नहीं मिलेगी, तब तक वे काम नहीं कर पाएंगी।

महिला चिकित्सकों का कहना है कि युवक दबंग किस्म के हैं। वे किसी भी तरह की वारदात उनके साथ कर सकते हैं। डॉ. गरिमा चौधरी और डॉ. पारुल सिंह का कहना है कि सीएचसी में कथित भाजपाइयों द्वारा इतना दबाव और उत्पीड़न किया जा रहा है कि उन्हें काम करते हुए भय लगता है। सीएमओ ने महिला चिकित्सकों की बात को सुनकर उन्हें आश्वस्त किया कि उन्हें अस्पताल में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। वे सीएचसी में काम करें, उनकी सुरक्षा की जाएगी। सीएमओ ने मामले में जांच के आदेश भी दिए हैं।

जांच कराकर कराएंगे कार्रवाई:

सीएमओ मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. डीके सिंह ने बताया कि बछरावां सीएचसी में महिला डॉक्टरों का उत्पीड़न करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए जांच कराएंगे। इस संबंध में एसपी को भी पत्र लिखा जा रहा है। जरूरत पड़ी तो ऐसा करने वालों पर मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा। महिला डॉक्टरों को सुरक्षा का आश्वासन देकर अस्पताल भेजा गया है।

आरुषि-हेमराज मर्डर: सबूतों के अभाव में HC ने तलवार दंपति को किया बरी, CBI कोर्ट का फैसला बदला, देखें वीडियो

अयोध्या: केंद्र ने रामायण सर्किट के लिए 133 करोड़ रुपये की दी मंजूरी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Women doctors annoyed by threatening BJP threats to resign
दिवाली पर स्पेशल ट्रेनें यात्रियों को राहत देंगी, इन ट्रेनों में अतिरिक्त कोचबुजुर्ग लापता