class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बंद करो वेटलिफ्टिंग सेंटर, बहुत कीमती है पिच की मिट्टी

 Weightlifting, Center

रेनू बाला चानू व सोनिया चानू जैसी अर्जुन पुरस्कार विजेता, राष्ट्रमण्डल खेलों की कांस्य पदक विजेता स्वाति सिंह, हाल ही में राष्ट्रमण्डल चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली पूनम और कांस्य पद विजेता सरस्वती राउत व वंदना समेत दो दर्जन से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर से ज्यादा कीमती क्रिकेट पिच बनाने वाली मिट्टी हो गई है। स्पोर्ट्स कॉलेज के प्रधानाचार्य ने स्पोर्ट्स अथारिटी आफ इंडिया (साई) के निदेशक को पत्र लिखा है कि उनके यहां चल रहा वेटलिफ्टिंग सेंटर हटाया जाए, वहां पिच बनाने की मिट्टी रखनी है।
मामला करीब सप्ताह पहले का है। खेलमंत्री चेतन चौहान अचानक स्पोर्ट्स कॉलेज पहुंच गए। उन्होंने वहां सड़कों पर गोबर देखा। परिसर में गाय, भैंस और बकरियों को टहलते देखा। इस पर उन्होंने खासी नाराजगी जाहिर की। फिर वह क्रिकेट की फील्ड की तरफ गए। उन्होंने पिचों की हालत खराब देखकर कहा कि इस पर काली मिट्टी डलवाई जाए। मिट्टी मंगवा कर कहीं सुरक्षित जगह रखी जाए।
बस इसी को आधार बनाकर स्पोर्ट्स कॉलेज के प्रधानाचार्य ने वहां चल रहे भारतीय खेल प्राधिकरण के वेटलिफ्टिंग सेंटर को खाली कराने की  कवायद शुरू कर दी। उन्होंने वहां के कोच से भी कहा कि हॉल में रखा वेटलिफ्टिंग का सामान हटा लिया जाए। साई के निदेशक राजेंद्र सिंह को पत्र लिखा कि साई से अनुबंध खत्म हो गया है इसलिए वहां से सेंटर हटा लिया जाए। वहां मिट्टी रखवानी है। जबकि स्पोर्ट्स कॉलेज में तमाम ऐसी जगह है, जहां मिट्टी रखवाई जा सकती है।

सेंटर ने तैयार किये हैं कई अंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर
साई ने वेटलिफ्टिंग का सेंटर शुरू किया था। स्पोर्ट्स कॉलेज व साई के बीच पांच वर्षों का अनुबंध था। यह अनुबंध आपसी सहमति से जुलाई 2017 तक था। इस बीच साई सेंटर ने तकरीबन दो  दर्जन अंतरराष्ट्रीय स्तर की वेटलिफ्टर तैयार की हैं। इनमें रेनू बाला व सोनिया चानू को तो अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। रेनू बाला ने दो राष्ट्रमण्डल खेल और कई राष्ट्रमण्डल चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीते। वहीं रेनू बाला व सोनिया चानू ओलंपियन हैं। साथ ही एशियाई खेल, एशियाई चैंपियनशिप व राष्ट्रमण्डल खेल व चैंपियनशिप में पदक जीत चुकी हैं। उनके अलावा स्वाति सिंह ने ग्लास्गो राष्ट्रमण्डल खेल में कांस्य पदक जीता। सृष्टि सिंह ने यूथ राष्ट्रमण्डल खेल में रजत पदक हासिल किया। पांच दिन पहले आस्ट्रेलिया में हो रही राष्ट्रमण्डल चैंपियनशिप में पूनम यादव ने रजत, वंदना व सरस्वती राउत ने कांस्य पदक जीते। इनके अलावा पूजा गुप्ता, छाया और ईनू रानी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई पदक जीते। 

‘मैं स्पोर्ट्स कॉलेज के प्रधानाचार्य का पत्र पढ़कर हैरान हूं कि 165 एकड़ के स्पोर्ट्स कॉलेज में पांच वर्ग फुट का कमरा ही मिट्टी रखने को मिला है। इस संबंध में मैंने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। यह सेंटर कहीं स्थानांतरित नहीं किया जा सकता है। नहीं तो साई को इस परिणामोन्मुखी सेंटर को बंद करना पड़ सकता है।’
-राजेंद्र सिंह, निदेशक साई (यूपी व उत्तराखण्ड)

‘चूंकि साई से अनुबंध जुलाई में ही खत्म हो गया है। हमारे पास मिट्टी रखने के लिए जगह नहीं है। इसकी जानकारी शासन को भी दे गई है और साई के निदेशक को भी।’
-विजय कुमार  गुप्ता, प्रधानाचार्य, स्पोर्ट्स कॉलेज लखनऊ

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Very precious pitch soil
सिंधी प्रीमियर लीग-2017 आज सेएटीएस ने तीन बांग्लादेशी युवकों को लखनऊ से गिरफ्तार किया