class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अखिलेश का वार: सरकार बनते ही रोमियो के पीछे पड़ गए,आखिर कौन है Romeo

Akhilesh yadav

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को विधान परिषद में कई मुद्दों पर सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के सामने बोलने का मौका मिला है। अखिलेश ने कहा कि समस्या झाड़ू लगाने की नहीं, बल्कि उसके बाद कूड़ा कहां जायेगा? अखिलेश बोले, देश की समस्या झाड़ू नहीं है, प्रधानमंत्री ने उलझा दिया। उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वायड पर कहा कि सरकार बनते ही रोमियो के पीछे पड़ गए। आखिर कौन है रोमियो। सरकार रोमियो पर आंकड़े दे। इंग्लैण्ड तक बात जाती है तो जवाब देना पड़ता। है। बेचारा असली रोमियो शरीफ था। कुछ रोमियो पुलिस विभाग में भी हो सकते हैं।

मेरे पास गाय नहीं तो क्या मैं हिन्दू नहीं?


उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जमाफी पर सरकार को वक्त लगा। अगर एक लाख का कर्ज माफ होगा तो सरकार का आंकड़ा ठीक नहीं है। अखिलेश ने गाय के मुद्दे पर भी अपनी बात रखी और कहा कि अच्छा होता कि गाय देखने को मिलती। गाय के नाम पर वोट लिया और गोरक्षकों ने लोगों की जान ली। उन्होंने कहा कि उप मुख्यमंत्री बताएं कि मैं हिन्दू हूं या नहीं। अगर मेरे पास गाय नहीं है तो मैं क्या हिन्दू नहीं हूं। उन्होंने कहा कि भाजपा समाज में जहर घोल रही है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार पिछड़ी है। मथुरा की घटना सबको पता है। 

मुझे मेट्रो चलने का इंतजार


उन्होंने कहा कि मुझे इंतजार है कि गोरखपुर और झांसी में मेट्रो कब चलेगी। 2019 नजदीक है। महीने दो महीने में एम्स शुरू करिये नहीं तो देर हो जायेगी। अखिलेश ने कहा कि हम पर केवल सैफई के विकास का आरोप लगा। आप ऐसे ही 625 सैफई बनाकर दिखाओ। उन्होंने कहा कि कन्नौज का परफ्यूम पार्क मत रोको जो खुशबू कहोगे दूंगा।    

24 घंटे दे रहे थे बिजली


अखिलेश यादव ने कहा, हम पहले ही 24 घण्टे बिजली दे रहे थे। जिन्होंने बिजली की लड़ाई लड़ी उनकी टिकट काट दी। केवल वीआईपी नहीं बल्कि मथुरा, वृंदावन और वाराणसी हर जगह 24 घंटे बिजली दी। हमने दीपावली पर रमजान से ज्यादा बिजली दी। भाजपा तंत्र-मंत्र जानती है। हमारी बात जनता नहीं समझी, इनकी मान गयी। लखनऊ और वाराणसी में लूट हुई। इलाहाबाद व सहारनपुर में घटना हुई। हम भी डीजीपी भेजते थे। लखनऊ में लालबत्ती हटाने और झाड़ू लगाने में आगे रहे। भाजपा नेता अधिकारियों से कैसे बात करते हैं। मीडिया जिसे चढ़ाता है, उसे ही गिराता है। दिल्ली उदाहरण है, जो मीडिया के माध्यम से चढ़ेगा उसे मीडिया ही गिरायेगा।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP government tells who is Romeo: Akhilesh