class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रायबरेली के बछरावां में चलती ट्रेन से कूदे दो सगे भाई, मौत

रायबरेली-लखनऊ रेलमार्ग पर बछरावां थाना क्षेत्र के कन्नावां गांव के पास पैसेंजर ट्रेन से एक विक्षिप्त युवक ने छलांग लगा दी। उसे बचाने के चक्कर में दूसरा भाई भी चलती ट्रेन से कूद गया। अगले स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचते ही पिता ने सूचना पुलिस को दी और दूसरी ट्रेन से वापस घटनास्थल पर पहुंचा तो दोनों बेटों के शवों को देख कर वह बेहोश हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 
गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र के सुखई खेड़ा मजरे  सतांव गांव के चन्द्रपाल अपने विक्षिप्त बेटे 18 वर्षीय कृष्णकांत का इलाज कराने के लिए अपने बड़े बेटे निशिकांत के साथ मनगढ़ कुंडा जा रहे थे। चन्द्रपाल गत शनिवार को बछरावां रेलवे स्टेशन से बरेली-प्रयाग ट्रेन में सवार होकर दोनों बेटों के साथ जा रहे थे। रास्ते में थाना क्षेत्र के कन्नावां गांव के पास रात करीब दस बजे चलती ट्रेन से विक्षिप्त कृष्णकांत ने छलांग लगा दी। उसे बचाने के चक्कर में ट्रेन में सवार बड़े भाई ने भी छलांग लगा दी। चलती ट्रेन में दोनों बेटों के एक साथ कूदते ही डिब्बे में हड़कंप मच गया। ट्रेन कुंदनगंज रेलवे स्टेशन पर पहुंचते ही पिता ने सूचना रेलवे पुलिस को दी। रेलवे पुलिस ने सूचना थाने को दी। उधर, रेलवे पुलिस के साथ लखनऊ जा रही दूसरी ट्रेन से चन्द्रपाल घटनास्थल पर पहुंचा। जहां दोनों बेटों के शव खैरहनी गांव के पास पड़े थे। एसओ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि चन्द्रपाल का विक्षिप्त बेटा चलती ट्रेन से कूद गया। उसे बचाने की कोशिश में दूसरा बेटा भी हादसे का शिकार हो गया। 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two brothers jump to moving train in Bachharawan
विद्या भारती प्रतिभा सम्मान समारोहस्वाइन फ्लू की जांच प्रदेश के सात मेडिकल कॉलेजों में