class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किशोरी समेत दो लोगों ने जान दी

मड़ियांव के गायत्रीनगर में अर्चना (17) ने अत्याधिक नींद की गोलियां खाकर जान दे दी। मोहनलालगंज में प्रियंका शुक्ला (30) का शव दुपट्टे से लटका मिला। मायके वालों ने जांच की मांग की है। गायत्री नगर निवासी मिथिलेश एक अस्पताल में सफाई कर्मी है। वह बेटी अर्चना, संजना समेत आठ बच्चों के साथ रहती है। पुलिस ने बताया कि शाम को अर्चना ने बहन को नींद की गोली खाकर सोने की बात कहकर भेज दिया। काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला। संजना ने पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़ा। उसे अस्पताल ले गए। जहां उसकी मौत हो गई। बहराइच के दुरकहा निवासी कृपा शंकर दीक्षित ने वर्ष 2012 में बेटी प्रियंका का विवाह मोहनलालगंज कस्बे के बगल में रहने वाले सिद्धार्थ शुक्ला के साथ किया था। वह पति और बेटे शौर्य के साथ रहती थी। सोमवार को प्रियंका का शव कमरे में साड़ी से लटका मिला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:suicide
चेन लूट कर भाग रहा बदमाश गिरफ्तारवृन्दावन कालोनी में पानी की किल्लत, प्रदर्शन