class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऊंचाहार हत्याकाण्ड के विरोध में प्रदर्शन, कई हिरासत में

- विधानभवन घेरने जा रहे अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोकालखनऊ। निज संवाददातारायबरेली के ऊंचाहार में पांच लोगों की निमर्म हत्या के विरोध में सोमवार को अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के कार्यकर्ता विधानभवन के घेराव को निकल पड़े। यह लोग बीजेपी कार्यालय पहुंचे ही थे कि पुलिस ने उन्हें रोक दिया। इससे तिलमिलाए कार्यकर्ता वही पर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों और पुलिसकर्मियों के बीच तीखी नोंकझोंक और धक्का-मुक्की भी हुई। इसके बाद सभी गांधी प्रतिमा पार्क पहुंचे। वहां प्रदर्शन थमता न देख पुलिस ने महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र नाथ त्रिपाठी समेत 35 लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन भेज दिया। दोपहर करीब 12 बजे महासभा के कार्यकर्ता दारुलशफा से विधानभवन की ओर कूच करने लगे। जैसे ही कार्यकर्ता बीजेपी कार्यालय के बाहर अवंतीबाई प्रतिमा के पास पहुंचे पहले से मुस्तैद पुलिसकर्मियों ने उन्हें घेर लिया और आगे नहीं बढ़ने दिया। इससे नाराज प्रदर्शनकारियों की पुलिस से तीखी बहस भी हुई। इसके बावजूद जब वह विधानभवन जाने में कामयाब नहीं हो सके तो वही प्रदर्शन शुरू कर दिया। करीब आधे घंटे चले प्रदर्शन के बाद पुलिस के समझाने पर प्रदर्शनकारी गांधी प्रतिमा पहुंचे। वहां भी वह चुप नहीं बैठे। जैसे ही प्रदर्शनकारियों ने विधानभवन जाने की दुबारा कोशिश की उन्हें हिरासत में ले लिया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र नाथ त्रिपाठी ने कहा कि जिन पांच लोगों की हत्या की गई वह सभी ब्राह्मण समाज से थे। उन्होंने सीएम से हत्याकाण्ड की सीबीआई जांच कराने, मृतकों के परिवार वालों को 50 लाख रुपए मुआवजा के तौर पर देने, प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की। साथ ही यह भी अग्रह किया कि मुख्यमंत्री खुद पीड़ित परिवार से मिलकर उक्त मांगों को पूरा करने की घोषणा करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pradarsan
लविवि नया सत्र: पहला दिनशकुन्तला मिश्रा विवि का आज से नया शैक्षिक सत्र शुरू