class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कामकाज- लेसा को दो भागों में बांटा जाएगा, बनेंगे दो मुख्य अभियंता

राजधानी की बेहतर बिजली सप्लाई व उपभोक्ताओं की समस्याओं के निस्तारण के लिए लेसा को दो भागों में बांटा जाएगा। इसके लिए मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के एमडी अरविंद राजबेदी ने शासन को प्रस्ताव बना कर भेज दिया है। शासन से हरी झंडी मिलने की तैयारी है। शासन से प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद इस काम हो जल्द ही पूरा कर दिया जाएगा। ऐसे में अब राजधानी मे दो मुख्य अभियंता बैठेंगे। मध्यांचल निगम के प्रबंध निदेशक अरविंद राजवेदी ने बताया कि दो वर्ष पहले लेसा को दो भांगों में बांटें जाने की तैयारी की गई थी। किन्ही कारणों से प्रस्ताव को भेजा नहीं जा सका गया, लेकिन अब प्रस्ताव को तैयार कर शासन को भेज दिया गया है। शासन से अनुमति मिलने के बाद कार्रवाई को पूरी कर दो भागों में बांट दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान में लेसा मुख्य अभियंता के ऊपर बहुत ज्यादा भार है। ऐसे में बिजली व्यवस्था को शत प्रतिशत आपूर्ति करने में लेसा कहीं न कहीं फेल हो रहा है। राजस्व में होगा इजाफा लेसा को दो भागों में बंटने के बाद राजस्व में भी इजाफे की उम्मीद जताई गई है। दोनों मुख्य अभियंता मिलकर अपने-अपने विद्युत मंडल की राजस्व व्यवस्था को सुदृढ़ करेंगे। साथ ही दोनों की राजस्व वसूली की जिम्मेदारी भी बनेगी। वर्तमान में लखनऊ में हर माह करीब 250 करोड़ रुपये की वसूली होती है।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news
प्रधानमंत्री आवास योजना में 5 लाख आवासों के लिए धनराशि जारीलखनऊ समेत छह विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की नियुक्ति को चुनौती